Masjid Committee in Assam declares no Eid mass prayer due to covid-19 epidemic
File Photo

    वाशिम. पिछले वर्ष के तरह इस वर्ष भी कोरोना संक्रमण पर जिले के शहर के साथ सभी तहसीलों में जगह जगह पर ईद उल अजहा बकरी ईद की नमाज सभी मुस्लिम, बुजुर्ग, युवक, युवति तथा महिलाओं ने अपने घर पर नमाज अदा करके ईद सादगी से मनाई.

    मुस्लिम धर्म में ईद का बड़ा महत्व होकर ईद के त्योहार पर मुस्लिम समाज के महिला, पुरुष, बच्चों ने नए कपड़े परिधान करके बड़े उत्साह से ईद का पर्व मनाया़  कोरोना संक्रमण के कारण से विगत दो सालो से ईद इदगाह पर नही मनाते हुए घर पर ही मनाई गई़  नमाज के बाद एक दूसरे को ईद की मुबारकबाद दी गई़  अनेक ने मोबाइल व्दारा ईद की मुबारकबाद दी़  मुबारक बाद का सिलसिला सुबह से शुरू हो गया था़  

    इस दौरान कोरोना काल जल्द समाप्त हो और अमन शांति बनी रहे. इस के लिए प्रार्थना की़  पिछले वर्ष के तरह ईदगाहों पर ईद वाले दिन सन्नाटा छाया हुआ था़  ईद के त्यौहार के दिन समुदाय के छोटे बालक व बालिकाओं को कोरोना संक्रमण संकट के कारण लगी पाबंदी से उनकी ईद की खुशियों पर कुछ विराम लगा नजर आया. मुस्लिम बंधुओं ने सरकार के आदेश का पालन करते हुए शांति से ईद मनाई.