बारीश के पानी बचाने  के लिए

वाशिम. बरसात के मौसम में पानी को अधिक से अधिक बचाने के लिए प्रयास करने का आह्वान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी सरपंचों से किया है़ प्रधानमंत्री के हस्ताक्षर वाला पत्र जिला प्रशासन के मार्फत

वाशिम. बरसात के मौसम में पानी को अधिक से अधिक बचाने के लिए प्रयास करने का आह्वान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी सरपंचों से किया है़ प्रधानमंत्री के हस्ताक्षर वाला पत्र जिला प्रशासन के मार्फत सरपंचों को जिलाधिकारी के हाथों सौंपे गए़ जिलाधिकारी कक्ष में हुए इस कार्यक्रम के लिए निवासी उपजिलाधिकारी शैलेश हिंगे के साथ ही जिले के सरपंच उपस्थित थे़ मोदी ने सरपंचों को लिखे पत्र में कहा कि, हम भाग्यशाली है की हमारे देश में निसर्ग व्दारा प्रर्याप्त बारिश का पानी मिलता है़ इस पानी का संचय करना सभी का कर्तव्य है़ इस के लिए बारिश शुरू होते ही कुछ उपाय योजना करना चाहिए़ इसमें बारिश का पानी रोकने के लिए गांव में कैसी व्यवस्था की जा सकेगी़ जिससे बारिश के पानी का अधिक से अधिक संचय हो सकेगा़ प्रधानमंत्री मोदी ने इस पत्र में पानी का किस प्रकार से स्टाक किया जा सकेगा इस बाबत जानकारी दी है़

-पानी अभियान को भी बनाओ जन आंदोलन
सरपंचों ने ग्रामसभा का आयोजन कर यह पत्र सभी को पढ़कर सुनाया. उपलब्ध पानी की हरेक बूंद बचाने के लिए सभी व्यक्ति व्दारा प्रयास होने का विश्वास भी प्रधानमंत्री ने व्यक्त किया है़ स्वच्छता अभियान में सक्रिय भाग लेकर उसे जनआंदोलन का रूप दिया, उसी प्रकार से पानी अभियान को भी जन आंदोलन बनाने का आवाहन उन्होंने किया है़ जिले में जलसंधारण के कामों में पहल किए वाशिम तहसील के साखरा, वालकी जहागीर, कारंजा तहसील के उंबर्डा बाजार,पिप्रिं मोडक, शिवनगर , रिसोड तहसील के बालखेड, मंगरुलपीर तहसील के नागी आदि गांवों के सरपंचों का सोमवार को जिलाधिकारी ह्षीकेश मोडक के हाथों प्रतिनिधिक स्वरुप में प्रधानमंत्री मोदी के लिखे पत्र सुपुर्द किया गया़