Biden may appoint Jake Sullivan as National Security Advisor, Antony Blinken as foreign minister

वाशिंगटन: अमेरिका (America) के नव निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) अपने विश्वस्त विदेश नीति सलाहकार एंटनी ब्लिंकेन (Antony Blinken) को विदेश मंत्री (Foreign Minister) नियुक्त कर सकते हैं। मीडिया में सोमवार को आई खबरों में इसकी संभावना जताई जा रही है। खबरों के अनुसार बाइडन जेक सलिवन (Jack Sullivan) को अपना राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (National Security Advisor) बना सकते हैं। बाइडन मंगलवार को अपने मंत्रिमंडल की घोषणा करेंगे।

बराक ओबामा (Barack Obama) के दूसरी बार राष्ट्रपति बनने पर उनके प्रशासन में ब्लिंकेन (58) ने उप विदेश मंत्री के तौर पर काम किया था। बाइडन के उप राष्ट्रपति के कार्यकाल में ब्लिंकेन उनके राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार थे। बाइडन के चुनाव प्रचार अभियान में ब्लिंकेन विदेश नीति सलाहकार के तौर पर काम कर चुके हैं।

वाल स्ट्रीट जर्नल की खबर के अनुसार, “नव निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन एंटनी ब्लिंकेन को विदेश मंत्री नियुक्त कर सकते हैं। इस निर्णय से अवगत लोगों के अनुसार एक विश्वस्त राजनयिक और विदेश नीति सलाहकार ब्लिंकेन को विश्वभर में अमेरिका के रिश्ते प्रगाढ़ करने का दायित्व सौंपा जा सकता है।”

वाशिंगटन पोस्ट में कहा गया, “नव निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन एंटनी ब्लिंकेन को विदेश मंत्री बनाने की घोषणा कर सकते हैं। वह उनके सबसे नजदीकी और लंबे समय तक विदेश नीति सलाहकार रह चुके हैं।”

अखबार में कहा गया, “दो जानकार व्यक्तियों के अनुसार बाइडन के एक अन्य सलाहकार जेक सलिवन को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार नियुक्त किया जा सकता है।” वाल स्ट्रीट जर्नल ने कहा, “निर्णय से अवगत लोगों के अनुसार ब्लिंकेन के नाम की घोषणा मंगलवार को हो सकती है।”

भारत के स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर बाइडन के प्रचार अभियान द्वारा आयोजित डिजिटल समारोह में ब्लिंकेन ने कहा था, “उप राष्ट्रपति (बाइडन) भारत के साथ मजबूत संबंधों के पक्षधर रहे हैं। मैंने यह खुद देखा है। मैंने उनके साथ 2002 में सीनेट की विदेश संबंध समिति में काम किया था। उसके बाद ओबामा-बाइडन प्रशासन और उनके उप राष्ट्रपति रहते हुए काम किया था।”

ब्लिंकेन ने इस साल 15 अगस्त को कहा था, “अगर आप 15 साल पहले जाएं तो तब भी जो बाइडन के पास भविष्य के लिए अमेरिका-भारत संबंधों की एक तस्वीर थी। उन्होंने 2006 में कहा था कि मेरा सपना है कि 2020 में दुनिया में दो सबसे करीबी रिश्तों वाले देश भारत और अमेरिका होंगे।” वाशिंगटन पोस्ट की खबर के अनुसार लिंडा थॉमस ग्रीनफील्ड को संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका का राजदूत नियुक्त किया जा सकता है।