File photo
File photo

बीजिंग. चीन(China) और पाकिस्तान (Pakistan) की वायु सेनाएं संयुक्त अभ्यास करेंगी। इसके लिए चीनी वायुसेना कर्मियों का एक समूह पाकिस्तान के लिए रवाना हो गया है।

चीन के सैन्य अधिकारियों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि संयुक्त अभ्यास का मकसद व्यवाहारिक सहयोग को मजबूत करना और दोनों पक्षों के लड़ने के वास्तविक प्रशिक्षण स्तर में सुधार करना है। चीनी रक्षा मंत्रालय ने बताया कि सैनिक सिंध प्रांत के थट्टा जिले के भोलारी में स्थित पाकिस्तानी वायु सेना अड्डे के लिए रवाना हुए हैं, जहां वे “शाहीन-नौ” (Shaheen (Eagle)-IX) नाम के अभ्यास में हिस्सा लेंगे। उसने बताया कि संयुक्त अभ्यास दिसंबर के अंत में खत्म होगा। (एजेंसी)