Donald Trump accused former model of sexual harassment

वॉशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) पर एक बार फिर से यौन उत्पीड़न का आरोप लगा है। पूर्व मॉडल (Model) एमी डोरिस (Amy Dorris) ने ट्रंप पर आरोप लगाया है कि 1997 में यानि कि करीब 23 साल पहले यूएस ओपन टेनिस चैंपियनशिप (US Open Tennis Championship) के दौरान ट्रंप ने उनके साथ ज़बरदस्ती की थी। ‘द गार्डियन’ को दिए एक इंटरव्यू में डोरिस ने ट्रंप पर आरोप लगाते हुए कहा है कि मैच के दौरान वीआईपी (VIP) बॉक्स में ट्रंप ने उन्हें जबरन किस किया था और बहुत मजबूती से जकड़ लिया था की वो कुछ समय तक हिल भी नहीं सकीं थीं।

यह पहला मामला नहीं है जब ट्रंप पर यौन उत्पीड़न (Sexual Harassment) के आरोप लगे हों। इससे पहले भी ट्रंप पर ऐसे आरोप लगते रहे हैं जिन्हे ट्रंप ने ख़ारिज  किया था। वहीं इस मामले को लेकर भी ट्रंप ने आरोपों का खंडन किया। रिपोर्ट के मुताबिक, ट्रंप के वकीलों ने दावा किया है कि नवंबर को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव से पहले उनकी छवि खराब करने के इरादे से यह आरोप लगाया गया है।

ट्रंप की काट ली थी जीभ

डोरिस ने अपने इंटरव्यू में बताया कि, उस दौरान रहे उनके बॉयफ्रेंड ने उन्हें ट्रंप से मिलाया था। 1997 यूएस ओपन मैच के दौरान अचानक ट्रंप ने उन्हें ग्रोप किया और किस किया। डोरिस ने कहा कि, ट्रंप को हटाने की कोशिश में उन्होंने ट्रंप की जीभ काट ली थी। डोरिस ने ट्रंप के साथ कुछ तस्वीरें भी शेयर की हैं।

करीब दो दशक बाद डोरिस आयीं सामने 

डोरिस के करीब दो दशक बाद आरोपों को सामने लेन पर ट्रंप के वकीलों के सवाल खड़े किए हैं। डोरिस ने हालांकि कहा है कि वो अपनी बेटियों के लिए रोल मॉडल बनना चाहती हैं इस लिए उन्होंने सामने आने का फैसला किया है। वहीं रिपोर्ट के मुताबिक, ट्रंप के वकीलों ने कहा है कि उनके चुनावी कैंपेन पर असर डालने के लिए ऐसे आरोप लगाए जा रहे हैं।

पॉर्न स्टार को चुकने पड़े ट्रंप को पैसे 

अभी हाल ही में कैलिफोर्निया की एक अदालत ने ट्रंप को पॉर्न स्टार स्टॉर्मी डेनियल्स को उनकी कानूनी लड़ाई के लिए वकील के शुल्क के रूप में 44,100 डॉलर देने के आदेश दिए थे। करीब एक दशक पहले उनके संबंधों के बारे में खामोश रहने के बदले में किए गए करार को डेनियल्स ने रद्द कर दिया था जिसके बाद अदालत का यह फैसला आया था। कैलिफोर्निया की सुपीरियर कोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि 2016 के राष्ट्रपति चुनाव के ठीक 11 दिन पहले हुए समझौते पर डेनियल्स ने ट्रंप के खिलाफ वाद जीत लिया है। ट्रंप के तत्कालीन निजी वकील माइकल कोहेन ने डेनियल्स को 1,30,000 डॉलर दिए थे। ट्रंप के निर्वाचित होने के बाद डेनियल्स ने समझौते को निष्प्रभावी करने के लिए मामला दायर किया था। 

ट्रंप ने किया था आरोपों से इंकार 

ट्रंप और उनके समर्थक इस बात से इनकार करते रहे कि राष्ट्रपति को इसके बारे में जानकारी थी लेकिन रिपोर्ट्स के मुताबिक, ट्रंप ने मई  2018 में ट्विटर पर इसे स्वीकार किया था और कहा कि उन्होंने डेनियल्स को दी गई राशि कोहेन को अदा की थी।