File
File

अबु धाबी: विदेश मंत्री (Foreign Minister) एस जयशंकर (S. Jaishankar) ने संयुक्त अरब अमीरात (United Arab Emirates) के विदेश मंत्री शेख अब्दुल्ला बिन जायद अल नाहयान (Sheikh Abdullah bin Zayed Al Nahyan) से मुलाकात की और ‘बदलती दुनिया’ में खाड़ी देश के साथ मिल कर काम करने के और अवसरों पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि कोरोना युग के अनुभवों ने भारत और यूएई को काफी सीख दी हैं।

जयशंकर 25-26 नवंबर को दो दिन की यूएई की यात्रा पर थे। यह उनकी तीन देशों बहरीन,संयुक्त अरब अमीरात और सेशेल्स की छह दिवसीय यात्रा का दूसरा चरण था, जो मंगलवार को शुरू हुआ। कोरोना वायरस (Corona Virus) संक्रमण के बीच हुई इस यात्रा को काफी अहम माना जा रहा है। जयशंकर ने शुक्रवार को ट्वीट किया,‘‘विदेश मंत्री शेख अब्दुल्ला बिन जायद से दोबारा मुलाकात करके अच्छा लगा।

हमने बढ़ते सहयोग का जायजा लिया। बदलती दुनिया में साथ मिल कर काम करने के और अवसरों पर चर्चा की। कोविड युग के अनुभवों ने हम दोनों को काफी सीख दी हैं। उनकी मेहमान नवाजी के लिए शुक्रिया।”

विदेश मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान के अनुसार जयशंकर और नाहयान ने बृहस्पतिवार को द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा की। बयान के अनुसार,‘‘जयशंकर ने कोविड-19 महामारी से निपटने में स्वास्थ्य और आर्थिक क्षेत्र में भारत की प्रगति के बारे में यूएई को जानकारी दी।”

दोनों पक्षों ने व्यापार, निवेश, बुनियादी ढांचे, ऊर्जा, खाद्य सुरक्षा और रक्षा सहित अपनी व्यापक रणनीतिक साझेदारी के विभिन्न पहलुओं पर सहयोग की समीक्षा की। बयान के अनुसार जयशंकर और नाहयान ने क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा की और विभिन्न बहुपक्षीय मुद्दों पर समन्वय जारी रखने पर सहमति जताई।

विदेश मंत्री ने अबु धाबी के शहजादे शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान से बुधवार को मुलाकात की और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से उन्हें शुभकामनाएं दीं और महामारी के दौरान भारतीय नागरिकों की देखभाल के लिए यूएई के नेतृत्व की सराहना की।