Institutions adopted Indian kitchen model to provide food to children in Britain

लंदन: गरीब बच्चों (Children) के लिए स्थापित एक भारतीय धर्मार्थ संस्था (Indian Charitable Institution) की ब्रिटिश शाखा ने ब्रिटेन (Britain) में बच्चों की भूख के वहनीय और संभव समाधान के तौर पर भारत में जांचे-परखे अत्याधुनिक रसोई के मॉडल को अपनाया है।

अक्षय पात्र फाउंडेशन (Akshay Patra Foundation) यूके ने इंग्लैंड (England) में मध्यावधि विद्यालय अवकाश की अवधि के दौरान जरुरतमंद बच्चों को मुफ्त भोजन उपलब्ध कराने के लिये जीएमएसपी फाउंडेशन से हाथ मिलाया है।

इस महीने शुरू हुई नयी जीएमएसपी अक्षय पात्र रसोई लंदन में कम लागत में हजारों बच्चों को पोषण वाला भोजन उपलब्ध कराएगी। जीएमएसपी अक्षय पात्र रसोई के तहत ब्रिटेन में प्रत्येक भोजन पर भारत में भी एक बच्चे का भोजन प्रायोजित किया जाएगा।

‘गॉड माई साइलेंट पार्टनर’ (जीएमएसपी) के संस्थापक रमेश सचदेव ने कहा, “हमने देखा कि अक्षय पात्र फाउंडेशन ने किस पैमाने पर तेजी के साथ भारत में स्कूली बच्चों को पोषणयुक्त भोजन उपलब्ध कराया। हम जानते हैं कि बढ़ती भोजन असमानताओं से निपटने के लिये ब्रिटेन को अभी इसी की जरूरत है।” इस पारिवारिक फाउंडेशन का गठन ब्रिटेन और भारत में जरूरतमंद लोगों की मदद के उद्देश्य से किया गया था।