Israel's Hamas carried out airstrikes on targets in Gaza, after sending flammable balloons
Representative Image

    तेलअवीव: इजराइल (Israel) में हाल ही में सत्ता बदली है। दक्षिणपंथी यामिना पार्टी के 49 वर्षीय नेता नफ्ताली बेनेट (Naftali Bennett)  नए प्रधानमंत्री (Prime Minister)  बन गए हैं। इसके साथ ही बेंजामिन नेतन्याहू के 12 साल लंबे चले शासन का अंत हो गया है। इजराइल में शासन तो बदला है लेकिन फलीस्तीन के साथ इजराइल की दुश्मनी बरकरार है। AFP के अनुसार, इजरायल ने एक बार फिर गाजा में एयर स्ट्राइक कर दी है।

    इससे पहले सैकड़ों की संख्या में इजराइल के धुर राष्ट्रवादियों ने ताकत का प्रदर्शन करने के लिए मंगलवार को पूर्वी यरूशलम में परेड की थी।AFP  मुताबिक, चश्मदीदों ने बताया, बुधवार सुबह फलीस्तीन की तरफ से आतंकियों ने दक्षिण इजरायल की ओर आग लगाने वाले गुब्बारे भेजे जिसके बाद इजरायल ने गाजा पर एयर स्ट्राइक कर दिया। 

    नफ्ताली बेनेट ने रविवार को इजराइल के प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी। संसद में बहुमत हासिल करने के बाद बेनेट ने रविवार को शपथ ली थी। इससे पहले, इजराइल की 120 सदस्यीय संसद ‘नेसेट’ में 60 सदस्यों ने पक्ष में और 59 सदस्यों ने विरोध में मतदान किया था। 

    इससे पहले, इजरायल और फलीस्तीन के बीच हाल ही में चली लड़ाई में दोनों देशों को काफी नुक्सान पहुंचा था। इस दौरान फलीस्तीन ने इजरायल के हमलों रिहाइशी इलाकों पर भी अटैक करने की बात कही थी तो वहीं इजरायल ने हमास के ठिकानों को निशाना बनाने का दावा किया था। हफ़्तों चले संघष के बाद सीज़फायर का एलान किया गया था।