Video of police shooting teenager in America

सॉल्ट लेक सिटी: अमेरिका (America) में पुलिस सुधार की मांगों के बीच उटा में 13 साल के एक किशोर को पुलिस द्वारा गोली मारने का वीडियो सामने आया है। ऑटिज्म (Autisim) की बीमारी से पीड़ित किशोर को मानसिक अस्पताल (Hospital) में भर्ती कराने के लिए उसकी मां ने पुलिस से मदद मांगी थी और पुलिस अधिकारी उससे (किशोर से) बात करने पर सहमत हुए थे।

पुलिस ने यह वीडियो फुटेज सोमवार को जारी की। वीडियो में दिख रहा है कि घर में पहुंचने के बाद सॉल्ट लेक सिटी के अधिकारी गली में उसका पीछा कर रहे हैं और उसे जमीन पर लेटने के लिए चिल्ला रहे हैं। इसके बाद कई गोलियां चलती हैं और लड़का नीचे गिर जाता है और वह कहता है, ” मैं अच्छा महसूस नहीं कर रहा हूं।” परिवार के अटॉर्नी ने बताया कि लड़का जीवित है लेकिन उसकी हड्डियां टूट गई है और कई अंगों को चोट पहुंची है।

वीडियो में दिखा है कि किशोर की मां गोल्डा बार्टन ने पुलिस को बताया कि उसके बेटे ने एक दिन पहले चार सितंबर को बताया था कि उसके पास बंदूक है और उसने उनके सहकर्मी को जान से मारने और शीशा तोड़ने की धमकी दी। महिला ने पुलिस को बताया कि उन्हें लगा कि उनके बेटे के पास बीबी या पैलेट बंदूक है। उन्हें नहीं पता था कि उसके पास वास्तविक बंदूक है। मानसिक समस्याओं के इलाज के लिए वह उसे अस्पताल में भर्ती कराना चाहती थीं।

अधिकारियों ने बताया कि उन्हें आगे कदम उठाना था क्योंकि बच्चे के पास वास्तविक बंदूक था। इस गोलीबारी ने फिर एक बार मानसिक समस्या से ग्रस्त लोगों से निपटने के पुलिस के तरीकों पर सवाल उठाए हैं। यह सवाल ऐसे समय में उठ रहा है जब देश में पहले से ही पुलिस व्यवस्था में सुधार की मांग हो रही है।