Avinash Ghule will promote development work according to the post

    अहमदनगर. घुले परिवार ने हमेशा से ही सामाजिक कार्यों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया है। स्व. शंकर राव घुले के बाद अब युवा नेता अविनाश घुले भी इस समृध्द विरासत का जतन कर रहे हैं। हमाल पंचायत, नगरसेवक, प्रतिष्ठान, युवा मंडल आदि के माध्यम से समाजसेवा का उनका व्रत निरंतर शुरू है।

    उन्हें अब महानगरपालिका (Municipal Corporation) में स्थायी समिति (Standing Committee) सभापति पद की जिम्मेदारी मिली है। इस पद के अनुरूप अविनाश घुले (Avinash Ghule) विकास कामों को निश्चित ही बढ़ावा देंगे। ऐसा प्रतिपादन रयत शिक्षण संस्था के सदस्य अशोक बाबर ने किया।

    स्थायी समिति के सभापति बनने पर सत्कार

    स्थायी समिति के सभापति पद पर अविनाश घुले का चयन होने के उपलक्ष्य में रयत शिक्षण संस्था की ओर से बाबर ने उनका सत्कार किया। इस अवसर पर अशोक बाबर बोल रहे थे। अंबादास बाबर,प्रा. कैलास मोहिते, भाऊसाहब पांडुले, नाथा राऊत, रामचंद दिघे, रमेश खेंडगे, सुरेश कावले, गोविंद सांगले, बाबासाहब काले, शाकीर शेख, मधुकर केकाण, सुरेश पठारे आदि उपस्थित थे। सत्कार के बाद अविनाश घुले ने कहा कि वरिष्ठों के आशीर्वाद और मित्र परिवार की शुभकामनाओं के माध्यम से विविध काम करने के प्रयास किए जा रहे हैं। स्थायी समिति शहर विकास में भारी योगदान देनेवाली समिति है। स्थायी समिति सभापति पद के माध्यम से शहर में विविध प्रकार के अच्छे काम करने की कोशिश करनेवाला है। प्रा. कैलाश मोहिते,भाऊसाहब पांडुले के भाषण हुए। रामचंद्र दिघे ने आभार जताया।