farmer

    • सभी जलप्रकल्पों में बढ़ा पानी 

    अकोला. पिछले कुछ दिनों में जिले भर में अच्छी बारिश होने के कारण करीब 80 से 85 प्रश बुआई पूरी होने की जानकारी मिली है. करीब सप्ताह भर पहले काफी लंबे समय तक बारिश नहीं हुई थी, जिसके कारण जिले भर में किसान काफी चिंता और परेशानी में थे. लेकिन पिछले कुछ दिनों में हुई अच्छी बारिश के कारण जिन क्षेत्रों में बुआई नहीं हो पाई थी उन क्षेत्रों में भी बुआई के काम किसानों ने पूरे कर लिए हैं. 

    80 से 85 प्रश बुआई

    प्राप्त जानकारी के अनुसार कुछ क्षेत्रों में अधिक तो कुछ क्षेत्रों में कुछ कम इस तरह कुल 80 से 85 प्रश बुआई पूरी हो गई है. इस बार शुरूआत में बारिश होने के बाद करीब 16 दिनों तक बारिश न होने से स्थिति काफी बिगड़ गई थी. जिन किसानों ने अपनी बुआई पूरी कर ली थी उन किसानों को भी लंबे समय तक बारिश न होने से काफी परेशानी का सामना करना पड़ा है. जिनकी फसलें खराब हो गई थी उन किसानों पर दुबारा बुआई का संकट आ गया है. फिलहाल अच्छी बारिश होने से किसानों ने अपनी बुआई के काम पूरे कर लिए हैं. कुछ क्षेत्रों में तेज गति से बुआई के काम शुरू है.

    प्राप्त जानकारी के अनुसार करीब 41,3283 हेक्टेयर क्षेत्र में बुआई के काम पूरे होने की जानकारी मिली है. पातुर क्षेत्र में करीब 90 प्रश बुआई पूरी होने की जानकारी मिली है. इस बार पहली बारिश के बाद दमदार बारिश का काफी दिनों तक इंतजार करना पड़ा है. जिसके कारण खरीफ फसलों की बुआई पिछले वर्ष की तुलना में काफी देर से पूरी हुई है. 

    सभी तहसीलों में हुई अच्छी बुआई

    प्राप्त जानकारी के अनुसार अकोला तहसील में करीब 84 प्रश बुआई हुई है. इसी तरह पातुर में 90 प्रश, बार्शीटाकली में 87 प्रश, मुर्तिजापुर में 86.09 प्रश, तेल्हारा में 83 प्रश, अकोट में 81 प्रश और बालापुर में करीब 75 प्रश बुआई होने की जानकारी मिली है. अब अच्छी और दमदार बारिश होने के बाद किसान काफी हर्षित देखे जा रहे हैं.

    जानकारी के अनुसार करीब 88 प्रश क्षेत्र में सोयाबीन की बुआई हुई है. उसके बाद दूसरे स्थान पर 79 प्रश क्षेत्र में कपास की बुआई पूरी हुई है. इसी तरह करीब 78 प्रश मूंग और 84 प्रश क्षेत्र में उड़द की बुआई होने की जानकारी प्राप्त हुई है. अब जिले भर में सभी तहसीलों में संतोषजनक बारिश होने के कारण किसानों में खुशी का वातावरण है. 

    सभी जल प्रकल्पों में बढ़ा पानी

    जिले के सभी जल प्रकल्पों में धीरे धीरे पानी बढ़ता जा रहा है. अकोला महानगर में जलापूर्ति करनेवाले काटेपूर्णा प्रकल्प में 36.06 प्रश जलसंचय होने की जानकारी मिली है. इसी तरह वान प्रकल्प में 31.30, मोर्ना में 40.08, निर्गुणा में 23.85, उमा में 18.78 तथा दगड़पारवा प्रकल्प में 40.08 प्रश पानी आ गया है.