Rana, MLA of Agricultural Cooperative Vergator Union, asks for action on seed certification machinery

  • 9 घंटे चली आम सभा

अकोला. जिला परिषद की आम सभा में नि:शुल्क बीटी बीज वितरण में समन्वय लाने के साथ साथ 38 प्रस्तावों पर चर्चा की गई. गुरुवार को ऑनलाइन बैठक में भ्रम की स्थिति देखी गई. उल्लेखनीय है कि सभा का कामकाज रात 11 बजे तक जारी रहा. शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के चुनाव के कारण बैठक में देरी हुई. सभा की अध्यक्षता जि.प. अध्यक्षा प्रतिभा भोजने ने की. सभा का प्रारंभ शिवसेना के सदस्यों ने जिले की 69 गांव जलापूर्ति योजना, स्वास्थ्य सहित महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा से किया जिसमें कमी का आरोप शिवसेना सदस्यों ने किया.

ग्राम भांबेरी स्थित स्वास्थ्य केंद्र की स्थापना, कान्हेरी में ग्राम पंचायत की इमारत गिरने, समाज कल्याण विभाग की दुग्धजन्य मवेशियों के वितरण की योजना, नि:शुल्क बीटी बीज वितरण, 40 प्रश से कम जलकर रहनेवाले ग्राम पंचायतों पर प्रशासकीय कार्रवाई, शिवानी के सीपेज झील को मनपा में स्थानांतरित नहीं किया जाना चाहिए, जि.प. की मिनी मार्केट की दुकानों का किराया निश्चित करने आदि विषय मंजूर किए गए.

कुछ मुद्दों पर, सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच तीखीं बहस हुई. उपाध्यक्ष सावित्री राठोड़, सभापति पांडे गुरुजी, आकाश सिरसाट, पंजाबराव वडाल, मनीषा बोर्डे, भारिप के गट नेता ज्ञानेश्वर सुलताने, शिवसेना गट नेता गोपाल दातकर, डा.प्रशांत अढावू, अप्पु तिड़के, सुनील फाटकर, आम्रपाली खंडारे आदि सहित सदस्य सभा में शामिल हुए. 

9 घंटे चली आम सभा

दोपहर 2 बजे शुरू हुई जिला परिषद की आम सभा लगभग 9 घंटों तक चली.  जिसमें विभिन्न 38 प्रस्तावों पर चर्चा की गयी. आम सभा में अधिकांश प्रस्ताव पारित किए गए. विपक्ष ने नाराजगी जताई कि विपक्ष की बातों को खारिज कर दिया गया. बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई.