Street Vendors
File Photo

-अरुण कुमार वालोकार

  • दी गई जगह से बाहर अतिक्रमण
  • करनेवालों पर सख्त कार्रवाई जरूरी

अकोला. शहर में अतिक्रमण चरम सीमा पर पहुंच गया है. शहर का कोई क्षेत्र ऐसा नहीं है जिस क्षेत्र में अतिक्रमण न किया गया हो. बाजारों में तो इस अतिक्रमण के कारण रास्ता चलना मुश्किल हो रहा है. महात्मा गांधी रोड, तिलक रोड, जैन मंदिर रोड, ओपन थिएटर रोड इसके जीते जागते उदाहरण हैं. अब तो अतिक्रमण कर के दुकानें लगाने वाले बड़ी संख्या में गौरक्षण रोड, मलकापुर रोड पर देखे जा सकते हैं. इस रोड पर भी अब बड़ी संख्या में दोनों ओर सब्जियों के साथ साथ विविध प्रकार की वस्तुएं बेचनेवाले बैठ रहे हैं. जिसके कारण यह मुख्य मार्ग भी संकरा होने की स्थिति में दिखाई दे रहा है.

इसी प्रकार का उदाहरण राउतवाड़ी और उमरी मार्ग पर देखा जा सकता है. यहां भी अब अतिक्रमण चरम पर है. यही परिस्थिति डाबकी रोड और पुराना शहर की अनेक बस्तियों की है. अकोट फैल, अशोक नगर, मंगरूलपीर रोड के साथ साथ शहर की सभी बस्तियों की हालत अतिक्रमण के कारण बिगड़ रही है. अभी भी शहर के सभी क्षेत्रों में काफी जगह मनपा के पास है. जहां पर हाकर्स जोन का निर्माण किया जा सकता है.

मनपा द्वारा सख्ती भी जरूरी

इसी तरह मनपा द्वारा कुछ सख्ती भी जरूरी है. मनपा द्वारा कई बार जठारपेठ का सब्जी बाजार हटाया गया, सब्जी विक्रेताओं को पास ही स्थित स्थान दिया गया लेकिन सब्जी विक्रेता फिर अपनी पुरानी जगह, मुख्य मार्ग पर आ गए हैं. इसी तरह की परिस्थिति सिंधी कैम्प क्षेत्र की है. यहां भी सब्जी बाजार से अधिक लोग मुख्य मार्ग पर बैठते हैं. अकोला मनपा द्वारा शहर के सभी क्षेत्रों में हाकर्स जोन का निर्माण किया जाना जरूरी है.

लेकिन इसके साथ साथ मनपा द्वारा यह भी सख्ती की जानी चाहिए कि हाकर्स जोन से बाहर कोई दुकान या गाड़ी न लगाए. क्योंकि यदि हॉकर्स जोन के साथ साथ लोग बाहर मुख्य मार्गों पर भी गाड़ी या दुकान लगाएंगे तो हाकर्स जोन के निर्माण को कोई औचित्य नहीं है. मनपा यदि किसी सड़क पर लगने वाले बाजार को हाकर्स जोन में जगह देती है तो उनकी सीमा हाकर्स जोन तक ही रहनी चाहिए. मनपा द्वारा कई बार निर्णय तो लिए जाते हैं लेकिन उन पर सख्ती से बिलकुल अमल नहीं किया जाता है.

अनेक स्थानों पर यातायात प्रभावित

अनेक स्थानों पर हाकर्स जोन न होने के कारण विविध वस्तुओं के विक्रेता सड़कों पर गाड़ी और दुकानें लगाकर बैठे हैं और खुलेआम यातायात को प्रभावित कर रहे हैं. इस ओर भी ध्यान दिया जाना आवश्यक है. मुख्य सब्जी बाजार जनता बाजार के अंदर और सामने दोनों ओर अतिक्रमण है. एक बार सख्त कार्रवाई कर के लोगों के आने जाने के लिए समुचित रास्ता रहे इस ओर भी ध्यान दिया जाना जरूरी है.

इसी तरह जनता सब्जी बाजार के सामने स्थित जो दुपहिया वाहनों की पार्किंग है वह भी बेतरतीब है. यहां भी व्यवस्थित पार्किग की जानी चाहिए. यहां हजारों लोग रोज आते हैं. यह मांग भी कई दिनों से की जा रही है. प्राप्त जानकारी के अनुसार अकोला मनपा ने 21 स्थानों पर हाकर्स जोन बनाने का निर्णय लिया है लेकिन उस पर अभी तक अमल नहीं किया गया है.

सर्विस गलियों में भी हो रहा है अतिक्रमण

शहर के अनेक क्षेत्रों में सर्विस गलियों में भी अतिक्रमण देखा जा सकता है. कुछ स्थानों पर तो लोगों ने अपने निजी उपयोग के लिए सर्विस गलियां भी बंद कर दी हैं. इसी तरह अनेक स्थानों पर सर्विस गलियों में बड़े बड़े पेड़ उग आए हैं. सर्विस गलियों में अतिक्रमण किए जाने के कारण अनेक सर्विस गलियों में सफाई करना भी मुश्किल हो रहा है. लेकिन इस ओर भी मनपा का ध्यान नहीं जा रहा है. जबकि ऐसे अतिक्रमण करनेवालों पर तो मनपा द्वारा शीघ्र कार्रवाई की जानी चाहिए थी.

अकोला मनपा कार्यालय के सामने स्थिति खराब

अकोला मनपा कार्यालय के सामने, मनपा की नाक के नीचे सड़क पर इतना अतिक्रमण है कि जिसके कारण पूरा मुख्य मार्ग संकरा हो गया है. यातायात नियमित रूप से यहां प्रभावित हो रहा है. लेकिन अकोला मनपा का ध्यान इस ओर बिलकुल नहीं जा रहा है. इस ओर भी ध्यान दिया जाना बहुत जरूरी है.