55 allowed home isolation, patients adopted the plan of administration

अमरावती. कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के खतरे को देखते हुए जिले में कोरोना प्रतिबंधात्मक उपाय योजनाओं को एक बार फिर से सख्ती से लागू करने की हलचलें तेज हो गई है. वहीं महानगरपालिका प्रशासन ने दूसरी लहर के लिए नागरिकों के लिए होम आयसोलेशन वेबसाइट का शुभारंभ निगमायुक्त प्रशांत रोड़े की अध्यक्षता में किया गया. जिसके कारण अब कोरोना बाधित मरीजों के रिश्तेदारों को होम आयसोलेशन के दस्तावेज लेकर मनपा में आने की जरुरत भी नहीं पड़ेगी. घर बैठे ही होम क्वारंटाइन की जानकारी दे सकेंगे. जिससे प्रशासन व नागरिकों का समय व्यर्थ नहीं होगा.

घर बैठे दे सकेंगे जानकारी

कोरोना के लिए मार्च माह से लाकडाउन घोषित हुआ. इस दौरान हजारों मरीजों को अस्पताल में दाखिल कराया. जिसके कारण अस्पतालों की संख्या भी दिन ब दिन बढ़ती गई. ऐसे में कम संक्रमित मरीजों को घर बैठे ही इलाज की व्यवस्था उपलब्ध कराई गई. होम क्वारंटाइन को नागरिकों ने भी उस्फूर्त प्रतिसाद दिया. मनपा क्षेत्र में 500 से अधिक मरीज घर बैठे ही कोरोना का इलाज ले रहे थे.

विशेष बात यह है कि शहर में होम क्वारंटाइन के दौरान किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई है अथवा उसे किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना नहीं करना पड़ा. जिसके चलते दूसरी लहर में भी नागरिकों के लिए होम क्वारंटाइन होने का एप जारी किया है. नागरिकों को इस सुविधा के लिए भी अब मनपा तक आना नहीं पड़ेगा.  

तैयारियों में जुटा एएमसी प्रशासन

अमरावती शहर में संक्रमण के मामलों में एक बार फिर से वृध्दि के आसार नजर आ रहे है. इस बार प्रशासन किसी प्रकार की ढीलाई बरतने को तैयार नहीं है. फिलहाल जनता कर्फ्यू या फिर लॉकडाउन को लेकर तो कोई निर्देश सरकार की ओर से नहीं मिले हैं. कोरोना प्रतिबंधात्मक उपाय योजनाओं को लागू करने के लिए प्रशासन की ओर से सख्त रूख अपनाया जा सकता है. दुकानदारों, बाजारपेठ तथा सडकों पर नागरिकों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का उल्लंघन करने पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

शहर प्रशासन की ओर से कोरोना के खतरे को देखते हुए नियमों को कड़ाई के साथ लागू करने की तैयारी की जा रही है. मनपा की ओर से मुख्य बाजारों में भीड़ को कम करने के दिशा-निर्देश जारी करने की तैयारी की जा रही है. स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक सर्दियों में संक्रमण के बढ़ने का खतरा अधिक है. इसलिए पहले से ही तैयारी का पुख्ता होना जरूरी है. इसलिए मनपा प्रशासन अपने स्तर पर नियोजन में जुट गया है.

कैसे देनी होगी जानकारी

बैठक में इस वेबसाइट का लोकार्पण करने के साथ ही यह आवेदन कैसे भरना है, क्या जानकारी देनी होगी. मरीजों को यह वेबसाइट कैसे मिलेगी, इसकी भी जानकारी दी गई. मराठी और अंग्रेजी रहने से हर कोई इस वेबसाइट पर आवेदन भर पायेगा. जो दस्तावेज मनपा प्रशासन के पास आकर जमा करने पड़ते थे. वहीं आवेदन फोटो के साथ वेबसाइट पर अपलोड़ करने होंगे.