SP MOKSHADA PATIL

    औरंगाबाद. बीते कई माह से औरंगाबाद ग्रामीण की एसपी (SP of Aurangabad Rural) मोक्षदा पाटिल (Mokshada Patil) द्वारा खेल के माध्यम से स्कूली और कॉलेज के छात्र-छात्राओं को स्त्री-पुरुष समानता कानून तथा कर्तव्य के बारे में  महत्व समझाकर देने के लिए अभिन्न उपक्रम चलाया जा रहा है। इस उपक्रम की राष्ट्रीय स्तर की फिक्की यानी फेडरेशन ऑफ इंडिय़न चेंबर ऑफ इंडस्ट्रीज (Federation of Indian Chamber of Industries) नामक संस्था ने संज्ञान लेकर औरंगाबाद की  एसपी मोक्षदा पाटिल को महिला सुरक्षा अंतर्गत फिक्की स्मार्ट  पुलिसिंग पुरस्कार 2020 से सम्मानित किया।

    स्त्री-पुरुष समानता तथा संविधान ने प्रदान किए अधिकार, कर्तव्य स्कूली तथा महाविद्यालयीन छात्रों को मन में अलख जगाने के लिए औरंगाबाद ग्रामीण पुलिस द्वारा  अभिन्न नामक उपक्रम पर अमलीजामा पहनाया जा रहा है। इस गतिविधियों को लागू करने के लिए अधिकारी, कर्मचारियों को विशेष प्रशिक्षित किया गया था। इस खेल के माध्यम से उनमें छेड़छाड़, रोड रोमिओगिरी, साइबर  अपराध, घरेलू हिंसा, परिवारिक हिंसाचार आदि को लेकर प्रति संवेदलशीलता निर्माण की। साथ ही छात्रों को न्याय हक तथा कर्तव्य की जानकारी देकर मार्गदर्शन किया गया।

    इस उपक्रम को छात्रों  ने भी बेहतर प्रतिसाद दिया। फिक्की ने इस उपक्रम की दखल लेकर भारत के महिला सुरक्षा श्रेणी में बेहतर तथा सराहनीय कार्य करने को लेकर एसपी मोक्षदा पाटिल को राष्ट्रीय स्तर पर स्मार्ट पुलिसिंग पुरस्कार-2020 सम्मानित किया। यह पुरस्कार प्राप्त होने को लेकर एसपी मोक्षदा पाटिल ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि अभिन्न टीम के पुलिस अधिकारी व  कर्मचारियों को इस पुरस्कार का श्रेय जाता है।