Experts are also surprised, this woman became pregnant without having sex, know how?
Representative Picture

  • 160 बेड की करायी गई व्यवस्था
  • न्यू लाइफ अस्पताल में करायी गई उपचार की व्यवस्था

भंडारा. जिले में कोरोना पॉजिटिव गर्भवती महिलाओं के उपचार की व्यवस्था की गई है. शहर के न्यू लाइफ अस्पताल में कोरोना पॉजिटिव गर्भवती महिलाओं के लिए की गई है, इससे पहले कोरोना पॉजिटिव गर्भवती महिलाओं को उपचार के लिए नागपुर भेजना पड़ता था. भंडारा के जिलाधिकारी संदीप कदम के अगुवाई में भंडारा शहर में उक्त व्यवस्था की गई है.

जिला प्रशासन ने भंडारा में कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या को ध्यान में रखते हुए उक्त व्यवस्था की है. जिला प्रशासन ने भंडारा शहर में छह निजी अस्पतालों को कोविड केयर सेंटर अस्पताल के लिए मंजूरी दी गई है. इसके साथ ही गर्भवती महिलाओं के उपचार के लिए 160 बेड की व्यवस्था की गई है. गर्भवती महिला अगर कोरोना पॉजिटिव पायी गई तो अब उसे इलाज के लिए नागपुर नहीं भेजना पड़ेगा. अब गर्भवती महिलाओं के लिए भंडारा में ही व्यवस्था करवा दी गई है.

भंडारा के न्यू लाइफ अस्पताल में गर्भवती महिलाओं के उपचार के लिए 160 बेड की व्यवस्था की गई है. महिलाओं की प्रसूती की जिम्मेदारी डॉ सुयोग मेश्राम, डॉ ओम गिरी पुंजे, डॉ. एस आर सोलोकार पर सौंपी गई है. उपचार के लिए शहर के चौधरी अस्पताल में 25, अशोका होटल में 60, होटल रॉयल प्लाजा में 15, श्रीकृष्ण अस्पताल में 15, प्रयास हॉस्पिटल में 30 पडोले हॉस्पटिल में 15,  इस तरह 160 बेड की व्यवस्था की गई है. कोविड अस्पताल में कामकाज सुचारू रूप से चले, इसके स्वास्थ्य विभाग ने 36 नर्सों की नियुक्ति की है, इनमें से 31 नर्सों ने अपना काम शुरु भी कर दिया है.