आंधलगांव से मालदा तक जर्जर सड़क हादसे की बनी रहती है आशंका, वाहन चालकों को परेशानी

    मोहाडी . कहा जाता है कि विकास की शुरुआत सड़कों के निर्माण से होती है. सड़कें गांवों से लेकर जिलों तक विकास की बागडोर संभालती हैं. मोहाड़ी तहसील के कई क्षेत्रों में सड़कों का ढांचागत विकास कई वर्षों से कम होता जा रहा है. इसके तहत मुख्य रूप से ग्रामीण व दूरदराज के क्षेत्रों में सड़कें खस्ताहाल हैं. इसी प्रकार गायमुख की ओर जाने वाली सड़क आंधलगांव, मालदा, ढोप, गड्ढों से होकर गुजरती है, जो आंधलगांव से निकलती है,   वाहन चालकों को दुर्घटना का भय बना रहता है. 

    बारिश से गड्ढों में जमा रहता है पानी

    सड़कों की खराब संरचना, जलजमाव व गड्ढों के कारण लोगों को परेशानी हो रही है. मोहड़ी तहसील की कई सड़कों की स्थिति आज भी संतोषजनक नहीं है. यहां के लोगों के लिए हर पल चिंता का विषय बना हुआ है. बुनियादी ढांचे में सड़क बहुत महत्वपूर्ण है. इसके निर्माण से लोगों को कई फायदे होते हैं, लेकिन गड्ढे, कांक्रीट का टूटना व जलभराव जैसी बीमारियों से जूझ रही सड़कें लोगों के लिए परेशानी का सबब बन जाती हैं. ऐसे में सवाल यह है कि क्या संबंधित विभाग सुनियोजित योजनाओं का विस्तार करें. निर्माण के साथ-साथ बेहतर संरचना का भी ध्यान रखा जाए, ताकि जलभराव एवं यातायात की समस्या न हो. 

    योजनाओं के योग्य नियोजन की जरूरत

    जब भी योजना बनाई जाती है, विभाग द्वारा मसौदा तैयार किया जाता है. लेकिन बाद में तकनीकी बाधाओं के कारण काम शुरू नहीं हो पाता है. ऐसे में योजनाओं पर काम करने के लिए योग्य नियोजन की जरूरत है. सड़क के कई हिस्सों में गड्ढे हैं और हर बार बारिश होने पर लोग जलजमाव से परेशान रहते हैं. 

    कई सड़कों के बीच में है बड़े-बड़े पेड़

    कई सड़कें ऐसी भी हैं जहां मुख्य सड़क के बीच में बड़े-बड़े पेड़ खड़े होकर दुर्घटनाएं कर रहे हैं, लेकिन इसे हटाने और सुधारने के लिए कोई प्रयास नहीं किया जा रहा है. नागरिकों ने मांग की है कि जल्द से जल्द सड़क की दशा सुधारने का प्रयास किया जाए.