Cold
Representational Pic

  • स्वच्छता पर ध्यान दें

भंडारा (का). बदलते वातावरण का परिणाम शरीर पर होता है. विशेषत: छोटे बच्चें जल्दी बीमार पड़ते हैं. फिलहाल कोरोना की दहशत में जुखाम, बुखार के मरीज बढ़ रहे हैं. बच्चों में इसका प्रमाण ज्यादा होने से अभिभावकों में डर का वातावरण है.

अपना रखें ध्यान
डाक्टरों का कहना है कि डरे नहीं रखें ध्यान, सभी जुखाम, बुखार के लक्षण कोविड ही होंगे ऐसा नहीं है. हालांकि स्वयं दवा लेने के बजाए डाक्टरों से सलाह लें. 2 वर्ष का बच्चा हो तो उसे मास्क लगाएं. बारिश में स्वास्थ्य से संबंधित कई समस्याएं रह सकती हैं. आमतौर पर दूषित पानी एवं भोजन के माध्यम से कई बीमारियां पैदा होती है. इन दिनों में जुखाम, खांसी एवं बूखार के ज्यादा मरीज पाए जाते हैं. बीमार नहीं हो इसलिए नागरिकों ने आवश्यक बातों का ध्यान रखने का आह्वान किया जा रहा है. 

यह है उपाय
बारिश में नहीं भीगना चाहिए, स्वच्छता रखें, दूषित अन्न का सेवन ना करे, पानी उबालकर ठंडा कर लेने पर एवं स्वच्छता रखने पर इन दिनों में होनेवाली 90 प्रश बीमारियों को दूर किया जा सकता है. नागरिकों ने मास्क लगाए रखें एवं सैनिटाइजेशन करते रहें.