Public Toilet, BHandara

लाखांदूर. जिप के स्वच्छ भारत अभियान के तहत निर्मित सार्वजनिक शौचालय केवल 6 महीनों में जर्जर होने की घटना सामने आई है. घटना का खुलासा लाखांदूर तहसील के चिचाल में हुआ. घटना को स्थानीय ग्रापं प्रशासन जिम्मेदार होने का आरोप ग्रामवासियों ने लगाया है.

ग्रापं प्रशासन की अनदेखी
जानकारी अनुसार वर्ष 2019-20में तहसील के चिचाल के टी-पाइंट चौक में जिप के स्वच्छ भारत मुहिम के तहत सार्वजनिक शौचालय का निर्माणकार्य किया गया. निर्माणकार्य के तहत शौचालय में आवश्यक सुविधा भी की गई. एक ही इमारत में महिला व पुरुष ऐसे 2 कक्ष वाले इस शौचालय का इस्तेमाल नागरिकों ने कुछ महीनों तक किया. अब इस शौचालय इमारत की ओर स्थानीय ग्रापं प्रशासन की अनदेखी होने से इस इमारत के पानी की टंकी, दरवाजे का नुकसान के साथ अन्य नुकसान होने की जानकारी है.

नागरिकों ने की दुरुस्ती की मांग
साकोली-लाखांदूर राज्यमार्ग पर स्थित टी पाइंट महत्व का स्थान है. जिससे इस चौक में हमेशा ही यात्रियों के साथ नागरिकों की भीड़ रहती है. हालांकि यात्री व नागरिकों की सुविधा के लिए निर्मित शौचालय की केवल 6 महीनों में ही दुर्दशा हो गयी है. इससे रोष व्यक्त किया जा रहा है. इस मामले में सरकार प्रशासन ने शीघ्र दखल लेकर शौचालय की मरम्मत करने की मांग की जा रही है.