नगरपंचायत का कारनामा

मोताला.मोताला नगरपंचायत के मुख्याधिकारी सतीश गावंडे के तबादले के पश्चात ही नगरपंचायत प्रशासन में इसकी टोपी उसके सर वाली कहावत को चरितार्थ करते हुए दस्तावेजों में फेरफार की गई. शहर के प्रभाग

मोताला. मोताला नगरपंचायत के मुख्याधिकारी सतीश गावंडे के तबादले के पश्चात ही नगरपंचायत प्रशासन में इसकी टोपी उसके सर वाली कहावत को चरितार्थ करते हुए दस्तावेजों में फेरफार की गई. शहर के प्रभाग क्र. १3 में विठ्ठल से नदी के किनारे तक रास्ते का काम दस्तावेजों पर बताकर प्रत्यक्ष किसी प्रकार का कार्य न करते हुए ६ लाख २१ हजार ६११ रुपये का सड़क काम का बिल नगरपंचायत द्वारा निकाले जाने का मामला सामने आया है. नगरपंचायत में उपरोक्त रास्ते के काम में किए गए भ्रष्टाचार के मामले की निपक्ष जांच कर संबंधित आरोपियों पर कानूनी कार्रवाई किए जाने की मांग शिवसेना के नगरसेवक विजय सुरडकर ने जिलाधिकारी को एक ज्ञापन सौंपकर की.

प्राप्त जानकारी के अनुसार मोताला नगरपंचायत के सड़क अनुदान योजना अंतर्गत ११ अगस्त २०१७ को पेश की गई निविदा तथा 3 नवम्बर २०१७ को नगरपंचायत में हुई सर्वसाधरण सभा के प्रस्ताव क्र २ के अनुसार लिए गए विषय क्र 3 के अनुसार प्रभाग क्र १3 में विठ्ठल से नदी किनारे तक आरसीसी रोड कीमत ६ लाख २१ हजार ६११ रुपये में निर्मित किए जाने के संदर्भ में प्रस्ताव पास किया गया किंतु उपरोक्त प्रस्ताव में पास किए हुए सड़क का काम अब तक पूरा नहीं हुआ. उपरोक्त अपूर्ण रास्ते का बकाया ७ जुलाई २०१८ को दस्तावेज व अधिकारियों की मिली भगत से संबंधित को दिए जाने का कारनामा नगरपंचायत मोताला में किया गया.

प्रशासन की खुलेआम हो रही आर्थिक लूट
नगरपंचायत प्रशासन की ओर से प्रशासन की आर्थिक लूट खुलेआम शुरू है. उपरोक्त रास्ते के मामले में भ्रष्टाचार करने वालों पर कारवाई न किए जाने पर लोकशाही मार्ग से आंदोलन किए जाने की चेतावनी ज्ञापन द्वारा दिया गया. जिलाधिकारी को दिए गए ज्ञापन पर नगरसेवक के हस्ताक्षर हैं.