Realty

  • 67% बढ़ी घरों की बिक्री
  • घोर मंदी से उबरा हाउसिंग सेक्टर

मुंबई. अर्थव्यवस्था में सुधार, होम लोन सस्ता होने और स्टाम्प ड्यूटी (Stamp duty) में कटौती किए जाने से अन्य उद्योग क्षेत्रों के साथ आवास क्षेत्र भी फिर तेजी पकड़ने लगा है। अक्टूबर में अच्छी बिक्री के बाद नवंबर में भी मुंबई के हाउसिंग सेक्टर (Housing sector) में रौनक रही। नवंबर में घरों की बिक्री की मात्रा 9301 इकाइयां दर्ज की गई है, जो नवंबर 2019 की तुलना में 67% की जोरदार वृद्धि है। जबकि अक्टूबर 2020 के 7929 इकाइयों की तुलना में 17% की मजबूत वृद्धि है। इस कैलेंडर वर्ष में अब तक नवंबर में सबसे ज्यादा घर बिके हैं। वैश्विक संपत्ति सलाहकार फर्म नाइट फ्रैंक इंडिया (Night Frank India) के आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। इन आंकड़ों से स्पष्ट होता है कि आवास क्षेत्र कोरोना महामारी के कारण आई घोर मंदी से लगभग उबर हो चुका है।  

स्टाम्प ड्यूटी कटौती का पॉजिटिव असर

नाइट फ्रैंक इंडिया की रिपोर्ट में कहा गया है कि अर्थव्यवस्था में सुधार और सस्ते होम लोन के साथ महाराष्ट्र सरकार द्वारा स्टाम्प ड्यूटी घटाए जाने का ग्राहकों के सेंटिमेंट पर काफी पॉजिटिव असर हो रहा है। बढ़ती बिक्री से उत्साहित अधिकांश रियल्टी कंपनियों के संगठन ‘नरेडको’ ने अपने ‘जीरो-स्टाम्प ड्यूटी कैम्पैन’ (Zero stamp duty campaign) को 31 दिसंबर तक जारी रखा है। इसके तहत मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र में ‘नरेडको’ के 1,000 से अधिक डेवलपर सदस्य ग्राहकों को स्टाम्प ड्यूटी में पूरी छूट प्रदान कर रहे हैं। यानी सरकार ने 31 दिसंबर तक के लिए स्टाम्प ड्यूटी 5 से घटाकर 2% की है और शेष 2% डेवलपर वहन कर रहे हैं। साथ ही ग्राहकों को आकर्षित करने कई तरह के ऑफर दिए जा रहे हैं। इससे ग्राहकों को बड़ी बचत हो रही है और वे खरीद के लिए प्रेरित हो रहे हैं।

मांग बनी रहने की उम्मीद

नाइट फ्रैंक इंडिया के अध्यक्ष शिशिर बैजल ने कहा कि मुंबई में आवासीय बिक्री के लिए सीमित अवधि की स्टाम्प ड्यूटी कटौती सबसे बड़ा उत्प्रेरक बना हुआ है। त्योहारी सीजन, होम लोन की सबसे कम दरें और डेवलपर्स द्वारा दिए गए प्रोत्साहन के कारण भी बिक्री में वृद्धि हो रही है। इस वजह से मांग का यह सिलसिला साल के अंत तक जारी रहने की संभावना है। हमारा मानना है कि वित्तीय वर्ष की समाप्ति से पहले अधिक खरीदार बाजार में आएंगे ताकि वे अपने सपनों का घर खरीदने के लिए इस उपयुक्त समय का ज्यादा से ज्यादा लाभ उठा सकें।

किफायती घरों की उपलब्धता बढ़ेगी : क्रेडाई

महाराष्ट्र सरकार द्वारा रियल इस्टेट उद्योग (Real estate industry) के लिए नए यूडीसीपीआर नोटिफिकेशन की घोषणा किये जाने के बाद रियल एस्टेट संगठन क्रेडाई एमसीएचआई  (CREDAI MCHI) ने राज्य में किफायती घरों की उपलब्धता में 100% वृद्धि होने का अनुमान लगाया है। इस सरकारी अधिसूचना के तहत डेवलपर्स के लिए कई विशेष प्रोत्साहन पेश किये गये हैं, जिसमें 15% प्रीमियम TDR की बजाय RR पर लागू किया जाना भी शामिल है। इससे नए रियल एस्टेट डेवलपर्स को उद्योग में आने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा।

क्रेडाई एमसीएचआई के प्रेसिडेंट दीपक गोरादिया ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार के शहरी विकास एवं लोकनिर्माण मंत्री एकनाथ शिंदे द्वारा जारी नई यूडीसीपीआर अधिसूचना घर खरीदारों और राज्य के डेवलपर्स के लिए वरदान साबित होगी। हमें यह पूरा विश्वास है कि इससे किफायती दामों पर घरों की उपलब्धता बढ़ेगी और इससे महाराष्ट्र के लाखों लोगों के लिए अपना खुद का घर होने के सपना पूरा करने में मदद मिलेगी।