sensex

मुंबई. प्रमुख शेयर सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी (Sensex and Nifty) 02 वर्ष 2020 के आखिरी दिन शुरुआती कारोबार के दौरान सीमित दायरे में थे और वित्तीय तथा ऊर्जा शेयरों की बढ़त को आईटी तथा एफएमसीजी शेयरों (FMCG Shares) की गिरावट ने बराबर किया। बुधवार को कारोबार की शुरुआत नकारात्मक रुख के साथ हुई, हालांकि बाद में थोड़ा सुधार दर्शाते हुए 30 शेयरों पर आधारित बीएसई सूचकांक (BSE Index) 17.84 अंक या 0.04 प्रतिशत बढ़कर 47,764.06 पर था।

एनएसई निफ्टी (NSE Nifty) 2.25 अंक बढ़कर 13,984.20 पर था। इसमें शामिल 30 शेयर हरे निशान में थे। इस दौरान ओेएनजीसी (ONGC), आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank), एचडीएफसी (HDFC) और बजाज फिनसर्व (Bajaj Finserv) में तेजी रही, जबकि टीसीएस (TCS), इंफोसिस, एमएंडएम, अल्ट्राटेक सीमेंट (UltraTech Cement), एचयूएल, एनटीपीसी और एसबीआई में गिरावट हुई। डेरिवेटिव श्रृंखला के गुरुवार को खत्म होने के कारण बाजार में अस्थिरता है।

विश्लेषकों ने कहा कि बाजार अपने उच्चतम स्तर पर है, फिर भी एफपीआई लगातार भारतीय बाजारों में निवेश कर रहे हैं, जिसके चलते भारतीय बाजार रोज तेजी के नए रिकॉर्ड बना रहे हैं। अन्य एशियाई बाजारों में हांगकांग (Hong Kong Index) का सूचकांक 0.26 प्रतिशत बढ़ा, जबकि चीन के शेयर 1.45 प्रतिशत गिरे। ऑस्ट्रेलियाई सूचकांक (Australian Index) में 0.80 प्रतिशत की गिरावट हुई।(एजेंसी)