karan-johar-apologizes-to-madhur-bhandarkar

अब करण जौहर (Karan Johar) ने पोस्ट साझा करते हुए मधुर भंडारकर (Madhur Bhandarkar) से माफ़ी मांगी है।

मुंबई. बॉलीवुड की फिल्मों के टाइटल को लेकर अक्सर विवाद होते रहते है। कुछ  कुछ दिन पहले, प्रसिद्ध निर्देशक मधुर भंडारकर (Madhur Bhandarkar) ने करण जौहर (Karan Johar) और अपूर्व मेहता पर फिल्म का नाम कॉपी करने का आरोप लगाया था। अब करण जौहर  (Karan Johar) ने पोस्ट साझा करते हुए मधुर भंडारकर (Madhur Bhandarkar) से माफ़ी  मांगी है।

करण  (Karan Johar)ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट साझा करते हुए कहा कि ‘मेरे प्यारे दोस्त’ कहकर मधुर भंडारकर को पोस्ट को टैग किया।”हमारा रिश्ता काफी पुराना है। और हम इस इंडस्ट्री में भी कई सालों से एक-दूसरे के करीब हैं। इन बीते सालों में आपके काम का मैं प्रशंसक रहा हूं। मैंने हमेशा आपके लिए शुभकामनाएं दी हैं।”

“मुझे पता है कि आप हमसे परेशान हैं। मैं विनम्रतापूर्वक आपके द्वारा की गई किसी भी शिकायत के लिए माफी मांगता हूं। हालांकि, मैं स्पष्ट करना चाहूंगा कि हमने अपनी रियलटी बेस्ड फ्रेंचाइजी सीरिज़ के नॉन-फिक्शन फॉरमेट को ध्यान में रखते हुए ही यह नया और टाइटल ‘द फैबुलस लाइव्स ऑफ बॉलीवुड वाइव्स’ चुना है। हमारा टाइटल एकदम अलग था। मुझे नहीं पता था कि इससे आपको तकलीफ़ होगी। उसके लिए मैं आपसे माफी मांगता हूं।”

करण (Karan Johar) ने आगे अपने पोस्ट में लिखा, “मैं आपको बताना चाहता हूं कि हमने सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर हैशटैग फैबुलस लाइव्स के साथ सीरिज़ को प्रमोट कर रहे हैं, जो हमारी फ्रेंचाइजी का टाईटल है जिसके साथ हम आगे काम करने वाले हैं। हम आपको विश्वास दिलाते हैं कि फॉर्मेट, नेचर, ऑडियंस और टाईटल अलग हैं और यह किसी भी तरह आपके काम को नष्ट नहीं करेगा।मुझे उम्मीद है कि हम इस विवाद से दूर होकर और आगे बढ़ सकते हैं साथ ही अपने दर्शकों के लिए असाधारण कंटेंट बनाने में जुट जाएंगे। मैं आपके सभी प्रयासों के लिए आपको शुभकामनाएं देता हूं और आपके काम को देखने के लिए तत्पर हूं।”

करण जौहर (Karan Johar) के माफीनामे के बाद मधुर भंडारकर (Madhur Bhandarkar) ने भी सोशल मीडिया के माध्यम से जवाब दिया हैं। मधुर भंडारकर ने पोस्ट साझा करते हुए कहा – ”प्रिय करण, जवाब देने के लिए शुक्रिया। यह वाकई एक अपनेपन वाली इंडस्ट्री है और यह आपसी विश्वास और सम्मान पर चलती है। जब हम बेहिचक नियमों को तोड़ते हैं, जो हमने ख़ुद बनाये हैं, तब ख़ुद को फ्रेटर्निटी कहना समझदारी नहीं। 2013 में मैंने आपको गुटका टाइटल देने से पहले एक बार भी नहीं सोचा था, जिसके लिए आपने मुझसे गुज़ारिश की थी।”

मधुर भंडारकर (Madhur Bhandarkar) ने आगे कहा, “इसीलिए मुझे वैसे ही सम्मान की उम्मीद थी, जब मैंने अपने नाम रजिस्टर्ड टाइटल को देने से मना कर दिया था। हमारी बातचीत और ट्रेड संस्थाओं द्वारा अस्वीकृत होने के बावजूद आपने उसका इस्तेमाल कर लिया, इससे मुझे गहरा दुख पहुंचा। वास्तविक रिश्ते ऐसे नहीं चलते। लेकिन कोई बात नहीं, आगे बढ़ते हैं। मैं आपकी माफ़ी को स्वीकार करता हूं और मुद्दे को यहीं छोड़ता हूं। मैं भी आपको भविष्य के प्रोजेक्ट्स के लिए शुभकामनाएं देता हूं।”