mukesh-khanna-open-up-on-jaya-bachchan-after-parliament-speech

जया बच्चन (Jaya Bachchan) ने कहा था कि, कुछ लोग जिस थाली में खाते हैं उसी में छेद करते हैं।

मुंबई. बॉलीवुड एक्ट्रेस और सांसद जया बच्चन (Jaya Bachchan) ने बॉलीवुड में ड्रग रैकेट को लेकर राज्यसभा में बयान दिया था। उन्होंने बिना नाम लिए रवि किशन के बयान की आलोचना की थी। जया बच्चन (Jaya Bachchan) ने कहा था कि, कुछ लोग जिस थाली में खाते हैं उसी में छेद करते हैं। जया के इस बयान के बाद इंडस्ट्री दो भागों में बट गई है। कुछ लोग जया बच्चन (Jaya Bachchan) के सपोर्ट में आगे आ रहे हैं, तो वहीं, कुछ लोग उनकी आलोचना कर रहे हैं। इसी बीच ‘शक्तिमान’ और भीष्म पितामह की भूमिका निभाने वाले एक्टर मुकेश खन्ना (Mukesh Khanna) ने जया बच्चन पर निशाना साधते हुए उन्हें शांत रहने के लिए कहा है। 

मुकेश खन्ना (Mukesh Khanna) ने कहा कि, नियम तोड़ने वालों पर जनता की नज़र है। कोई भी इंडस्ट्री को ‘गटर’ नहीं कह रहा है। केवल एक जांच की मांग कर रहा है। इसलिए चिल्लाने की बजाय जया बच्चन को चुपचाप बैठना चाहिए और जांच के निर्देश का इंतजार करना चाहिए।

हाल ही में एक इंटरव्यू में मुकेश खन्ना (Mukesh Khanna) ने कहा, “किसी ने बहुत ही सही कहा है। बॉलीवुड गटर नहीं है, बॉलीवुड में जो गटर है, इससे फर्क पड़ता है। कोई भी पूरी इंडस्ट्री की निंदा नहीं कर रहा है लेकिन, एक बुरी मछली  पूरे तालाब को बर्बाद कर सकती है। यदि आप उस मछली को ढूंढना चाहते हैं, तो आपको पूरे तालाब को ढूंढना होगा। तब आप उसे पकड़ सकते हैं।”  

Video : Jaya Bachchan Targets Actor-Politician Ravi Kishan In Parliament Session

आगे मुकेश खन्ना (Mukesh Khanna) ने कहा, “फिलहाल सवाल जांच का है और अगर कोई कहता है कि जिस थाली में खाए हैं, उसी थाली में छेद क्यों करते हो? तो  मैं आपको बता दूं, थाली की बात नहीं हो रही है। क्योंकि अब थाली नहीं छलनी हो गई है। हम प्लेट के बारे में बात नहीं कर रहे हैं, लेकिन इस पर क्या परोसा जा रहा है। इस पर बात हो रही है।”

मुकेश खन्ना  (Mukesh Khanna)  ने जया बच्चन  (Jaya Bachchan) का नाम लेते हुए कहा कि, “वह इतना शोर क्यों कर रही हैं। हम यह नहीं कह रहे हैं कि इंडस्ट्री में हर कोई बुरा है। हम कह रहे हैं कि कुछ बुरे हैं और कुछ अच्छे हैं। इसलिए हम सिर्फ सवाल कर रहे हैं कि कौन बुरा है और कौन अच्छा है? उसके लिए आपको एफबीआई, एनसीबी द्वारा जांच की जरूरत है। आप विरोध क्यों कर रहे हैं? यदि आप अच्छे लोगों में से एक हैं, तो बैठें और निर्देश की प्रतीक्षा करें। आप क्यों शोर कर रहे हैं?”