rajpal-yadav-appeals-yogi-government-to-make-film-city-in-pilibhit

हाल ही में राजपाल यादव (Rajpal Yadav) ने फेसबुक पर एक वीडियो शेयर किया है।

लखनऊ. बॉलीवुड एक्टर राजपाल यादव (Rajpal Yadav) ने योगी सरकार के एक फैसले पर खुशी जताई है। दरअसल,  कुछ दिनों पहले योगी सरकार ने फिल्म सिटी का निर्माण करने का ऐलान किया। इसके बाद राजपाल यादव (Rajpal Yadav) ने पीलीभीत में फिल्म सिटी बनाने की अपील की है। हाल ही में राजपाल यादव (Rajpal Yadav) ने फेसबुक पर एक वीडियो शेयर किया है। 

राजपाल यादव (Rajpal Yadav) ने इस वीडियो के ज़रिये  सरकार से अपील की है कि इस जमीन पर 11,000 एकड़ में खेल सिनेमा और 25,000 एकड़ में बच्चों और बुजुर्गों के लिए रंगारंग सफारी बनाई जाए। इसके अलावा राजपाल यादव (Rajpal Yadav) ने कहा कि, वह खुद  इस फिल्म सिटी का माली बनने के लिए भी तैयार हैं।राजपाल यादव (Rajpal Yadav) ने कहा कि बचपन से ही उनका पीलीभीत से जुड़ाव रहा है। उत्तर उत्तर प्रदेश उनकी जन्मभूमि है। वहीं, मुंबई उनकी कर्मभूमि है। 

राजपाल यादव (Rajpal Yadav) ने कहा, “मुझे कला क्षेत्र में आज 36 साल हो गए हैं। मेरा हमेशा से ऐसा सपना था कि उत्तर प्रदेश में ऐसा संसार बनाया जाए तो कला का संसार हो। इसलिए मैं सरकार को कुछ मशवरा देना चाहता हूं।” उन्होंने कहा, “फिल्म सिटी वहां होनी चाहिए, जहां जल जंगल जमीन पर्यावरण, पर्यटन सबका संगम हो, वहां कला निवास करती है, जहां शांति निवास करती है, जहां  आसपास किसी भी तरीके का प्रदूषण न हो।” 

एक्टर ने आगे कहा,  “उत्तराखंड के बनबसा से लेकर पीलीभीत के माधोटांडा, गोमती तट और लखीमपुर खीरी ही नहीं बल्कि नेपाल बॉर्डर तक जल, जंगल, जमीन और पक्षियों का अद्भुत मिश्रण है। रामपाल यादव ने कहा कि,’अगर सरकार चाहे तो मैं 1 रुपया 111 पैसा लेकर इस फिल्म सिटी का माली बनने को भी तैयार हूं। मैं मानता हूँ यह स्वर्ग नहीं है। लेकिन,यह सब स्वर्ग से कम भी नहीं है।”

ज्ञात हो कि, उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने यूपी में देश की सबसे खूबसूरत और हाईटेक फिल्म इंडस्ट्री बनाने का घोषणा की है।योगी ने कहा कि देश को एक अच्छी फिल्म सिटी की जरूरत है और वह उत्तर प्रदेश यह ज़िम्मेदारी लेने को तैयार है। उन्होनें कहा, एक उम्दा फिल्म सिटी तैयार की जाएगी और फ़िल्म सिटी के लिए नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्सप्रेसवे का क्षेत्र बेहतर सबसे होगा।

इसके बाद एक्ट्रेस कंगना रनौत ने योगी सरकार की सराहना करते हुए ट्वीट किया। कंगना ने कहा, “लोगों की धारणा है कि भारत में शीर्ष फिल्म उद्योग हिंदी फिल्म उद्योग है जी कि गलत है। तेलुगू फिल्म उद्योग खुद को शीर्ष स्थान पर ले गया है और अब भारत में कई भाषाओं में फिल्में हो रही है, कई हिंदी फिल्मों की शूटिंग रामोजी हैदराबाद में की जा रही है।”  

कंगना ने अपने अगले ट्वीट में कहा कि  “मैं इस घोषणा की सराहना करती हूं, योगी आदित्यनाथ जी। हमें फिल्म उद्योग में कई सुधारों की आवश्यकता है, सबसे पहले हमें एक बड़े फिल्म उद्योग की आवश्यकता है जिसे भारतीय फिल्म उद्योग कहा जाता है, जिसे हम कई कारकों के आधार पर विभाजित करते हैं, हॉलीवुड फिल्मों को इसका लाभ मिलता है। एक उद्योग लेकिन कई फिल्म सिटीज थम्स अप।”

कंगना के अलावा फिल्म निर्माता-निर्देशक मधुर भंडारकर ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस फैसले से काफी खुश है। रविवार को मधुर भंडारकर ने योगी से उनके सरकारी आवास पर भेंट की। दोनों के बीच बॉलीवुड को लेकर काफी देर चर्चा हुई।इनदोनों ने करीब 20 मिनट तक चर्चा की। इसके बाद योगी आदित्यनात ने मधुर भंडारकर को अयोध्या के राम मंदिर के प्रसाद के तौर पर सिक्का, रामचरित मानस, तुलसी माला और भव्य दिव्य कुम्भ की कॉफी टेबल बुक भेंट की।