hospital
Representational Pic

    चंद्रपुर. कोरपना तहसील मुख्यालय स्थित कोरपना के ग्रामीण अस्पताल को उपजिल अस्पताल का दर्जा देने की मांग नागरिकों ने की है. पूरे देश भर से लेकर जिले में कोरोना महामारी का प्रकोप छाया हुआ है. इससे कोरपना तहसील भी अछूती नहीं है. यहां भी लगातार कोरोना पाजिटिव मरीज मिल रहे हैं.

    तीसरी लहर में मरीजों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर यहां समूचित व्यवस्था नहीं होने के कारण मजबूरन मरीजों को जिला मुख्यालय जाना पड़ रहा है. कुछ मरीज तेलंगाना जा रहे हैं. ग्रामीण अस्पताल में वर्तमान में केवल 30 बेड हैं. इससे कई गुना अधिक मरीज यहां रोजाना पहले भी मिल चुके हैं. ग्रामीण अस्पताल में कोरपना तहसील ही नहीं, बल्कि जिवती, यवतमाल जिले और तेलंगाना के राज्य के मरीज भी उपचार के लिए आते हैं.

    मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए स्वास्थ्य सेवा अपर्याप्त हो रही थी. ऐसे में समय पर उपचार नहीं मिलने से मरीजों की मृत्यु की संख्या भी बढ़ रही थी. मरीजों की परेशानियों को देखते हुए ग्रामीण अस्पताल को उपजिला अस्पताल का दर्जा देने, बेड्स बढ़ाने, स्वास्थ्य कर्मियों की संख्या बढ़ाने की मांग नागरिकों ने की.