9,27,000 new cases of Covid-19 were reported in Europe in a week
File Photo : PTI

  • दूसरी लहर में सतर्क रहने का प्रशासन का आह्वान

चंद्रपुर. कोरोना वायरस की पहली लहर में चंद्रपुर जिले में सर्वाधिक मौते 60 से अधिक आयु वर्ग में हुई है. कोरोना की दूसरी लहर आने की आशंका व्यक्त की जा रही है. जिससे मृत्यु दर को रोकने के लिए जिला प्रशासन द्वारा नागरिकों को सतर्क व सावधानी बरतने की सूचना जिला प्रशासन ने दी है. वृध्द लोगों को कोरेाना होने पर स्वास्थ्य और भी गंभीर होने का खतरा स्वास्थ्य विभाग के विशेषज्ञो ने जताया है. 

कोरोना की चेन तोडने के लिए स्वास्थ्य प्रशासन द्वारा विविध प्रतिबंधात्मक उपाययोजना किए जा रहे है. परंतु कोरेाना की पहली लहर में अबतक 308 लोगों की मृत्यु हुई है. इसमें सर्वाधिक 60 से अधिक आयु के 156 लोगों का समावेश है. कोरेान संक्रमितों का आंकडा 20 हजार पार हो चुका है. इसमे से 18 हजार से अधिक लोग उपचार के बाद स्वस्थ हुए है. ऐसे में अब कोरेाना की दूसरी लहर आने की आशंका जताई जा रही है. जिससे 60 से अधिक आयु वाले नागरिकेां को सावधानी बरतने की अपील प्रशासन ने की है. 

0 से 30 वर्ष आयु वर्ग में एक भी मौत अबतक कोरोना से नही हुई है. 31 से 40 आयु वर्ग में 16, 31 से 50 आयु वर्ग में 44, 51 से 60 आयुवर्ग में 92 और 61 से 70 आयु वर्ग में 156 लोगों की मौत हुई है. वही 71 से 100 आयुवर्ग में एक भी मौत नही हुई है. 

इस दौरान सितम्बर महीने में सर्वाधिक अर्थात 26 मृत्यु हुई है. इस माह में सर्वाधिक कोरेाना बाधितों का आंकडा भी बढा था. इसके चलते स्वास्थ्य विभाग ने तहसील स्तर पर कोविड केअर सेंटर शुरू किए है. जल्द से जल्द उपचार ही कोरेाना संक्रमितों के लिए जीवनदान है. परंतु ग्रामीण क्षेत्र में कुछ व्यक्ति एंटीजेन व आरटीपीसीआर जांच में विलम्ब करने की जानकारी है. उपचार में विलम्ब करने की जानकारी है. उपचार में विलम्ब होने के चलते मृतकों की संख्या भी बढी. जल्द से जल्द उपचार होता तो बिमारी से स्वास्थ्य होने की संभावना होती थी ऐसी जानकारी जिला स्वास्थ्य विभाग ने दी है.