T Natrajan and Virendra Sehwag

-विनय कुमार

भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे में 3 मैचों की वनडे सीरीज़ (AUS-IND ODI SERIES, 2020) के आखिरी मैच में २ दिसंबर 2020 को हाल ही समाप्त हुए आईपीएल 2920 में उभरा एक नया सितारा टी नटराजन नज़र आया। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के अपने डेब्यू मैच (Debut Match) में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज़ मार्नेस लामुशाने (Marnus Labuschagne) का विकेट लेकर अपना खाता खोला। इस मैच में उन्होंने कुल 2 विकेट लिए।

तमिलनाडु (Tamil Nadu) के तेज गेंदबाज टी नटराजन को आईपीएल 2017 के सीजन में किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) ने चुना था, क्योंकि उस साल उनका टीएनपीएल (TNPL) सीजन में बड़ा ही शानदार प्रदर्शन था। उस सीजन में टी नटराजन को 6 मैच खेलने मिले और उनके खाते सिर्फ 2 विकेट आए थे। इस वजह से उनको टीम में शामिल किये जाने को लेकर सवाल उठने भी लगे थे। पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज ‘मुल्तान के सुल्तान’ वीरेंद्र सहवाग (Virendra Sehwag) को उस समय किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) का संचालन प्रमुख बनाया गया था। सहवाग ने खुलासा किया है कि उस वक़्त कैसे टी नटराजन को किंग्स इलेवन पंजाब की टीम में शामिल करने को लेकर उनकी आलोचना हुई थी।

वीरेंद्र सहवाग ने ‘सोनी स्पोर्ट्स नेटवर्क’ (Sony Sports Network) से अपनी बातचीत में कहा- “मैं बहुत खुश था क्योंकि जब मैंने किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) के लिए आईपीएल (IPL T20) में टी नटराजन को चुना था, तो हर कोई सवाल कर रहा था कि ऐसा खिलाड़ी आया है, जिसने डोमेस्टिक क्रिकेट भी नहीं खेला है और टीएनपीएल (TNPL) खेल कर आया है, इसलिए इतनी बड़ी कीमत पर इस खिलाड़ी को कैसा चुना गया।”

उन्होंने कहा कि तमिलनाडु (Tamilnadu) के कुछ खिलाड़ियों ने किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) में ‘यॉर्कर मास्टर’ (Yorker Master) को शामिल करने में ख़ास भूमिका निभाई। उन्होंने उस समय टी नटराजन के कई वीडियो देखे और उन्हें बिना पीछे देखे नीलामी में लेने कि ठानी। उन्हें आईपीएल-2017 कि नीलामी में 3 करोड़ रुपए में खरीदा गया था। वीरेंद्र सहवाग ने कहा, “मैं पैसे के बारे में परेशान नहीं था, लेकिन एक प्रतिभा है। उस समय हमारी टीम में तमिलनाडु (Tamilnadu) के कुछ खिलाड़ी थे, जिन्होंने मुझे बताया कि वह एक बहुत अच्छे खिलाड़ी हैं जो ‘स्लॉग ओवरों’ (Slog over) में बहुत अच्छी गेंदबाजी करते हैं और सटीक यॉर्कर देते हैं।”

ऐसे किया चुनने का फैसला

किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) ने 2017 के आईपीएल (IPL T20,2017 ) में सिर्फ 7 मैच जीते और ‘प्लेऑफ’ (Play-off) के लिए क्वालिफाई करने में नाकाम रहने के कारण पॉइंट्स टेबल में 5वें पायदान पर रहा। टी नटराजन ने उस सीज़न (IPL T20, 2020 ) में अपने खेले 6 मैचों में सिर्फ 2  विकेट लिए थे, लेकिन इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि मैचों में KXIP की जीत में उनका अहम् योगदान रहा था।

वीरेंद्र सहवाग ने कहा, “मैंने उनके वीडियो देखे और फिर फैसला किया कि हम उन्हें नीलामी में जरूर ले जाएंगे, क्योंकि हमारे पास ‘डेथ बॉलर’ (Death bowler) नहीं था। बदकिस्मती से, उस साल उसे कोहनी या घुटने में चोट लगी थी। जिसके कारण वह बहुत सारे मैच नहीं खेल सके। लेकिन हमने केवल उन्हीं मैचों में जीत हासिल की, जिसमें वह खेले और बाकी सभी मैच हार गए।”

पूर्व सलामी बल्लेबाज़ वीरेंद्र सहवाग ने T-20 में डेब्यू करने से पहले टी नटराजन को वनडे टीम में देखकर चौंक गए थे।और, वह इस घातक तेज़ गेंदबाज को प्लेइंग इलेवन (Playing-XI) में मौका मिलने से काफी उत्साहित भी थे। वीरेंद्र सहवाग ने टी नटराजन को शुभकामनाएं भी दीं।

वीरेंद्र सहवाग ने कहा, “मैं यह देखकर बहुत उत्साहित था कि उन्हें एक मौका मिल रहा था, हालांकि मैं सोच रहा था कि उन्हें टी 20 इंटरनैशनल में मौका दिया जाएगा, लेकिन मेरे लिए यह सुखद बात थी कि वह वनडे में खेले। लेकिन जो भी हुआ अच्छा हुआ। टी नटराजन को शुभकामनाएं। मुझे उम्मीद है कि वह यहां से अच्छा प्रदर्शन करते रहेंगे और भारतीय टीम में अपनी जगह बनाएंगे।