Ross Taylor

    -विनय कुमार

    टेस्ट क्रिकेट के इतिहास के पहले वर्ल्ड कप को जीतने में न्यूज़ीलैंड की तरफ एस अहम भूमिका निभाने वाले खिलाड़ियों में से एक दुनिया के सबसे धाकड़ बल्लेबाजों में गिने जाने वाले रॉस टेलर (Ross Taylor) सुर्खियों में हैं। ICC WTC Final में भारत के खिलाफ खेलते हुए  दाएं हाथ के बल्लेबाज रॉस टेलर ने मैच की चौथी पारी में नाबाद 47 रन बनाए और न्यूजीलैंड की टीम ने इस ऐतिहासिक मैच को 8 विकेट से जीत लिया और न्यूजीलैंड टेस्ट क्रिकेट का पहला ‘चक्रवर्ती सम्राट’ बन गया। संयोग की बात ये भी रही कि ICC WORLD TEST CHAMPIONSHIP TROPHY FINAL 2021 का ‘विजयी रन’ (Winning run) भी रॉस टेलर के बल्ले से ही निकला। अब, क्रिकेट पंडित इस बात को एल कर कयास लगा रहे हैं कि रॉस टेलर अब अपने अंतरराष्ट्रीय करियर की यात्रा में और कितने आगे जाएंगे।

    गौरतलब है कि, 37 साल के रॉस टेलर (Ross Taylor) अपने अंतरराष्ट्रीय करियर के आखिरी पड़ाव पर हैं, और वह इस बात को भली-भांति  जानते भी हैं। एक खास बातचीत में टेलर ने निकट भविष्य में अपने करियर को लेकर एक बड़ा फैसला लेने के संकेत दिए। उन्होंने कहा, “आने वाले 10 दिन या उससे ज्यादा, जितनी जल्दी हो सके, बस अपने परिवार और दोस्तों के साथ बिताना चाहता हूं। मुझे यकीन है कि आने वाले हफ्तों में ‘वो’ बातें होंगी- हम और ‘न्यूजीलैंड क्रिकेट’ (New Zealand Cricket) भी करेंगे।” रॉस टेलर ने कहा, ”हमारी टीम के खिलाड़ी किसी कारण से 34 या 35 साल की उम्र तक रिटायर हो जाते हैं। और, एक बार जब मैं 37 की उम्र में आ गया हूं, तो मैं समझ सकता हूं कि वे ऐसा क्यों करते हैं ? उम्र को लेकर आपसे कई प्रश्न भी किए जाते हैं। लेकिन, हमें वही करना है जो 2 वर्ष पहले किया करते थे। भले ही मैं ‘पुल अप स्टंप्स’ (pull up stumps) करूं, फिर भी मेरा मानना है कि मैं डोमेस्टिक क्रिकेट खेल सकता हूं।”

    ‘अब भी सीखना चाहता हूं’

    रॉस टेलर ने आगे कहा, “मैं अभी भी क्रिकेट से उतना ही मोहब्बत करता हूं। फिर भी और सीखना और बेहतर बना चाहता हूं। इसलिए मुझे लगता है यह एक अच्छा संकेत है। इस स्तर पर मैं केवल क्रिकेट (Ross Taylor only Cricket) खेलना चाहता हूं, चाहे वह किसी भी लेवल का हो, जब तक मैं खेल सकता हूं।”

    इसमें कोई दो राय नहीं कि रॉस टेलर की उम्र बढ़ चली है, लेकिन बढ़ती उम्र के साथ उनके खेल में भी उतना ही निखार आया है। यूं तो इंजरी के कारण उनके 2021 क्रिकेट सीजन में बाधा ज़रूर आई है। चोट की बात की जाए तो, इसी साल मार्च में बांग्लादेश के खिलाफ (New Zealand vs Bangladesh ODI Series 2021) अपने ही होम ग्राउंड पर एकदिवसीय श्रृंखला (ODI Series) के दौरान उन्हें हैमस्ट्रिंग की इंजरी आई थी, जिसके बाद मई की शुरुआत में भी उन्हें काफ़ इंजरी आई थी। इसलिए निकट भविष्य में उनके खेलने को लेकर उनकी फिटनेस महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।

    गौरतलब है कि, रॉस टेलर (Ross Taylor) न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के सबसे प्रमुख खिलाड़ियों में से एक रहे हैं। उन्होंने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में अब तक 108 टेस्ट मैच, 233 एकदिवसीय मैच और 102 T20 मैच खेले हैं। जिसमें टेस्ट में 7565, ODI में 8576 और T20I में उन्होंने 1909 रन बनाए हैं। बड़ी बात तो ये भी है कि रॉस टेलर क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट्स में 100 से ज्यादा मैच खेलने वाले इकलौते खिलाड़ी हैं। अब देखना ये है कि टेलर खेलना जारी रखते हैं, या करेंगे संन्यास का एलान।