suicide

नयी दिल्ली. दक्षिणपूर्व दिल्ली के बदरपुर इलाके (Badarpur Area) में लापता होने के करीब एक महीने बाद 23 वर्षीय एक व्यक्ति एक बैंक के भवन की छत पर, कमरे में फंदे से लटका मिला। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि मृतक का शव सड़ी-गली हालत में पाया गया।

पुलिस के अनुसार, साहिल कुमार नामक यह व्यक्ति जयपुर में कपड़े की एक दुकान में काम करता था और बदरपुर में उसी जगह के आसपास अपने माता-पिता के साथ रहता था जहां से उसका शव बरामद किया गया।

पुलिस के मुताबिक, कुमार 29 सितंबर से लापता था और काफी प्रयासों के बावजूद उसका पता नहीं लगाया जा सका था। वैसे उसने अपना फोन, बटुआ और अन्य चीजें अपने घर में छोड़ दी थीं।

पुलिस के अनुसार बुधवार को बैंक के एक कर्मी को भवन की छत पर कमरे में लगे सैटेलाईट टीवी सिस्टम की जांच के लिए भेजा गया। जब वह कमरे में दाखिल हुआ तब उसे यह व्यक्ति फांसी से लटका मृत मिला। अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (दक्षिणपूर्ण) कुमार ज्ञानेश ने कहा, “बुधवार को हमें भारतीय स्टेट बैंक के प्रबंधक का फोन आया कि भवन की छत पर कमरे में एक शव फांसी के फंदे से लटका मिला है। हमारी टीम मौके पर पहुंची और उसने शव बहुत ही बुरी हालत में पाया। शव करीब 25-30 दिन पुराना है। बाद में उसकी पहचान की गयी। हमें पता चला कि यह व्यक्ति समीप ही रहता था और कपड़े की दुकान में काम करता था।”

अधिकारी के अनुसार, इस मामले में कोई गड़बड़ी का संदेह नहीं है और पोस्टमार्टम के बाद शव को संबंधित परिवार को सौंप दिया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक यह आत्महत्या का मामला प्रतीत होता है। पूछताछ के दौरान परिवार ने पुलिस को बताया कि कुमार एक लड़की को पसंद करता था लेकिन दोनों इस रिश्ते से प्रसन्न नहीं थे। उन्हें संदेह है कि इसी वजह से उसने यह कदम उठाया होगा।

पुलिस को संदेह है कि कुमार ने समीप की इमारत की छत से बैंक की छत पर छलांग लगाई होगी और वहां बने कमरे में फांसी लगाई होगी। उसके शरीर पर चोट का कोई निशान नहीं था। बैंक के कर्मी सामन्यत: छत पर बने कमरे में नहीं जाते इसलिए हफ्तों तक कुमार के बारे में किसी को पता नहीं लगा। (एजेंसी)