MINI LOCKDOWN IN JALGAON

    नयी दिल्ली: व्यापार संघ सीटीआई ने शनिवार को कहा कि उसके द्वारा कराए गए सर्वे में 65 प्रतिशत व्यापार संगठनों ने दिल्ली में कोविड-19 महामारी के मद्देनजर लॉकडाउन बढ़ाए जाने का पक्ष लिया है। दिल्ली सरकार ने राजधानी में कोविड-19 मामलों में भारी वृद्धि के मद्देनजर अप्रैल में एक सप्ताह का लॉकडाउन लागू किया था, जिसे दो बार बढ़ाया जा चुका है और 10 मई की सुबह पांच बजे यह खत्म होना है। 

    मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा था कि हालात की समीक्षा के बाद लॉकडाउन बढ़ाने पर फैसला लिया जाएगा। उन्होंने कहा था, ”फिलहाल दिल्ली के निवासी चाहते हैं कि लॉकडाउन जारी रहे ताकि इस वायरस के प्रसार को रोका जा सके।”

    चैम्बर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री (सीटीआई) के अध्यक्ष बृजेश गोयल ने कहा कि दिल्ली में 65 प्रतिशत कारोबारियों ने लॉकडाउन बढ़ाने का पक्ष लिया।” उन्होंने कहा कि सर्वे में 480 व्यापारियों और औद्योगिक संगठनों ने अपनी राय दी। 

    सीटीआई ने एक बयान में कहा कि 480 संगठनों में से करीब 315 ने कहा कि दिल्ली में लॉकडाउन एक सप्ताह बढ़ाया जाना चाहिये। 60 संगठनों ने दो सप्ताह लॉकडाउन बढ़ाने का पक्ष लिया। बयान में कहा गया है कि करीब 100 संगठनों ने कहा कि लॉकडाउन हटाया जाना चाहिये और कारोबारियों को सम-विषम के आधार पर हफ्ते में तीन दिन दुकानें और बाजार खोलने की अनुमति मिलनी चाहिये।