कर्नाटक में 8 महीने बाद फिर खुले कॉलेज

बेंगलुरु. कर्नाटक (Karnataka colleges) में करीब आठ महीने के बाद मंगलवार को कोविड-19 (Covid-19) से बचने के एहतियाती उपायों के साथ कई कॉलेज खोले गए। हालांकि, पहले दिन विद्यार्थियों की उपस्थिति बहुत कम रही। उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार ने 17 नवंबर से कॉलेजों को दोबारा खोलने और ऑफलाइन या नियमित कक्षाएं शुरू करने की अनुमति दी थी। इसके साथ ही कॉलेज आने वालों के लिए आरटी-पीसीआर जांच की निगेटिव रिपोर्ट जमा करने की शर्त भी रखी गई थी।

राज्य के उप मुख्यमंत्री डॉ.सीएन अश्वथ नारायण (CN Ashwath Narayan)जो उच्च शिक्षा विभाग (Higher education) भी संभाल रहे हैं, ने पहले संवाददाताओं से कहा था कि नियमित कक्षाएं जरूरी हैं क्योंकि ऑनलाइन कक्षाएं पर्याप्त नहीं है। उन्होंने कहा था कि विद्यार्थी बेहतर इंटरनेट और उचित उपकरणों की गैर मौजूदगी में कई पाठ पढ़ने से वंचित हो सकते हैं, इसके साथ ही प्रायोगिक कक्षाओं की भी जरूरत है। सूत्रों ने बताया कि मंगलवार को खुले कॉलेजों में विद्यार्थियों की उपस्थिति कम रही। सरकार ने कहा कि कॉलेज आने वाले शिक्षकों, प्रशासनिक कर्मचारियों और विद्यार्थियों के लिए आरटी-पीसीआर जांच में संक्रमण मुक्त होने संबंधी रिपोर्ट जमा कराना अनिवार्य है। इसके साथ ही नियमित कक्षा में आने वाले विद्यार्थियों के माता-पिता से अनापत्ति प्रमाण पत्र भी लेना अनिवार्य है।(एजेंसी)