board exam

    उत्तर प्रदेश: आज हम उत्तर प्रदेश के छात्रों के लिए एक बहुत बड़ी और महत्वपूर्ण खबर लेकर आएं है। मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि विधानसभा चनावों के चलते 10वीं और 12वीं के बोर्ड एग्जाम को आगे बढ़ाया जा सकता है। बता दें कि उत्तर प्रदेश बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (UPBSE) 10वीं और 12वीं के बोर्ड एग्जाम चुनाव के बाद कराने की योजना बना रहा है। वहीं, प्री बोर्ड एग्जाम 1 जनवरी से 10 जनवरी के बीच कराए जा सकते हैं। 

    इस वजह से एग्जाम की डेट बढ़ सकती है आगे 

    दरअसल बोर्ड एग्जाम और चुनाव की तारीखें एक ही समय में पड़ रही है इस वजह से परीक्षाओं की तारीखों को आगे बढ़ाए जाने की संभावना है। शिक्षा विभाग से जुड़े सूत्रों ने बताया कि इस फैसले से 51 लाख से ज्यादा छात्र प्रभावित हो सकते हैं। 10वीं बोर्ड एग्जाम के लिए अप्लाई करने वाले छात्रों की संख्या करीब 27 लाख और 12वीं के छात्रों की संख्या करीब 23 लाख है। 

    चुनाव और परीक्षाओं का क्या संबंध 

    जैसा की हम सब जानते है। 10वीं और 12वीं के बोर्ड एग्जाम फरवरी में होने थे। लेकिन फरवरी और मार्च में ही विधानसभा चुनाव भी होंगे। इस दौरान स्कूल को पोलिंग स्टेशन बनाया जाएगा, साथ ही शिक्षकों को चुनाव ड्यूटी भी लगाए जाएगा। इस वजह से चुनाव के समय ही परीक्षाएं कराना संभव नहीं है। यही वजह है कि बोर्ड एग्जाम को चुनाव बाद कराया जा सकता है। 

    मिली जानकारी के अनुसार अब बोर्ड एग्जाम की तारीखों को आगे बढ़ा दिया जा सकता है। मौजूदा सरकार का कार्यकाल मार्च 2022 में खत्म हो जाएगा. मार्च से पहले विधानसभा चुनाव कराना जरूरी है। ऐसी स्थिति में चुनाव की तारीखों को आगे नहीं बढ़ाया जा सकता, इसलिए बोर्ड एग्जाम को ही टाला जाएगा।