salim-khan-took-salman-khan-punishment-in-school-and-stood-by-him-actor-tells-the-story

    मुंबई: सलमान खान (Salman Khan) के फैंस ने उन्हें ईद पर एक बेशकीमती तोहफा दिया है, यह तोहफा है उनकी फिल्म ‘राधे योर मोस्ट वांटेड भाई’ (Radhe Your Most Wanted Bhai) के लिए बेपनाह प्यार, जिसके चलते इस फिल्म ने पहले ही एक इतिहास रच दिया था। लेकिन अब सलमान खान (Salim Khan) के पिता और बॉलीवुड के जाने माने स्क्रीनराइटर सलीम खान ने फिल्म राधे: योर मोस्ट वॉन्टेड भाई पर अपनी राय दी है। सलीम खान ने कहा है कि राधे बिल्कुल भी अच्छी फिल्म नहीं है। इसके अलावा सलीम खान ने दबंग को एक अलग फिल्म और बजरंगी भाईजान को एक अच्छी और अलग फिल्म बताया है। 

    दरअसल, दैनिक भास्कर को दिए इंटरव्यू में सलीम ने फिल्म को लेकर कहा, ‘ये फिल्म दबंग 3 से काफी अलग है। बजरंगी भाई जान अच्छी थी और बिल्कुल अलग थी। राधे कोई बेहतरीन फिल्म नहीं है, लेकिन कमर्शियल सिनेमा की वजह से सभी को पैसे मिलते हैं।’

    सलीम ने कहा, ‘आर्टिस्ट से लेकर प्रोड्यूसर्स, डिस्ट्रिब्यूटर्स, और हर स्टेकहोस्डर को पैसे चाहिए होते हैं। इस तरह से सिनेमा का साइकिल चलता है और ये बिजनेस चलते ही जाना चाहिए. सभी को पैसे कमाने होते हैं. इस तौर पर सलमान ने परफॉर्म किया. इस फिल्म के स्टेकहोल्डर्स को फायदा हुआ है. नहीं तो राधे अच्छी फिल्म नहीं है।’

    सलीम ने आगे फिल्म इंडस्ट्री के राइटर्स को लेकर कहा, ‘अभी फिल्म इंडस्ट्री की जो बड़ी दिक्कत है वो ये कि यहां अच्छे राइटर्स नहीं है. अभी जो राइटर्स हैं वो हिंदी और उर्दू के लिट्रेचर को नहीं पढ़ते हैं। वह बाहर से किसी चीज को देखते हैं और उसे ही मानते हैं. फिल्म जंजीर, भारतीय सिनेमा के लिए गेम चेंजर थी। इस फिल्म से भारतीय सिनेमा सही रास्ते पर आ गया था। लेकिन उसके बाद से इंडस्ट्री को सलीम-जावेद का रिप्लेसमेंट नहीं मिला। अब ऐसी सिचुएशन में सलमान खान भी क्या करे।’