Strike Logo

गड़चिरोली. शहर में 100 करोड़ खर्च कर भूमिगत गटर लाइन डालने का कार्य शुरू है. उक्त निर्माणकार्य का उचित नियोजन संबंधित ठेकेदार ने नहीं करने से बारिश के दिनों में अनेक वार्डों में आवागमन करना परेशानी हो रही है.  इस समस्या की ओर स्थानीय प्रशासन का ध्यानाकर्षण करने के लिए युवक कांग्रेस की ओर से घंटानाद आंदोलन करने की चेतावनी युकां के जिलाध्यक्ष महेंद्र ब्राम्हणवाडे ने दी है. 

सड़कों की नहीं हुई मरम्मत
गर्मी की शुरुआत में ही शहर के अनेक वार्डों में भूमिगत गटर लाइन डालने के कार्य की शुरुआत हुई. अब तक करीब 40 किमी पाइप लाइन डाली गई है. मात्र जिन सड़कों की खुदाई कर पाइप लाइन डाली गई, उन सड़कों की समय पर मरम्मत नहीं की गई. बारिश  शुरू होने के बाद अनेक वार्डों में आवागमन करना मुश्किल हो गया है.  नागरिकों द्वारा आवाज उठाने के बाद संबंधित ठेकेदार द्वारा मरम्मत का कार्य शुरू किया गया. प्रमुखता से शिवाजी महाविद्यालय शिवाजी महाविद्यालय से रेड्डी गोदाम  तथा चामोर्शी मार्ग से रेड्डी गोदाम तक दोनों सड़कों का खुदाई कार्य बारिश  शुरू होने के बाद किया गया.इससे  नागरिकों को  परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. संबंधित ठेकेदार ने जानबुझकर समस्या निर्माण करने का आरोप युवक कांग्रेस के जिलाध्यक्ष ब्राम्हणवाडे ने लगाया है.

आगमन में परेशानी
शहर में आरमोरी मार्ग छोड़ मूल, धानोरा व चामोर्शी इन राष्ट्रीय महामार्ग का निर्माणकार्य शुरू है.  मुख्य मार्ग से आवागमन करते समय  नागरिकों को  परेशानी हो रही है. इसके बावजूद शहर के अंतर्गत सड़के गटर लाइन के लिए खुदाई किए गए.   इसकी समय पर मरम्मत नहीं किए जाने से नागरिकों को घर तक पहुंचना मुश्किल हो रहा है. इस समस्या की ओर नप प्रशासन का ध्यानाकर्षण करने के लिए युवक कांग्रेस की ओर से आंदोलन किया जाएगा. 

 कार्य की जांच करें : ब्राम्हणवाडे
युवक कांग्रेस के जिलाध्यक्ष महेंद्र ब्राम्हणवाडे ने कहा कि  नगर परिषद गड़चिरोली की ओर से गत अनेक दिनों से भूमिगत गटर योजना का कार्य शुरू है. लेकिन अब तक पूर्ण नहीं हुआ है.  योजना का कार्य घटिया स्तर का किया जा रहा है.  इस ओर नगर परिषद पदाधिकारियों द्वारा अनदेखी हो रही है.  भूमिगत गटर योजना के कार्यों की जांच की जाए.