जवानों का बढ़ा मनोबल, CRPF के IG पहुंचे धानोरा, नक्सलियों से लड़ने जवानों का किया मार्गदर्शन

    गड़चिरोली. सीआरपीएफ के पश्चिम क्षेत्र के महासंचालक का पदभार स्वीकारते ही सीआरपीएफ के आईजी रणदीप दत्ता ने गड़चिरोली जिले के नक्सल प्रभावित धानोरा तहसील का दौरा किया. धानोरा में तैनात सीआरपीएफ की 113 बटालियन के अधिकारी व जवानों को नक्सल गतिविधियों को रोकने के लिये उचित मार्गदर्शन किया.

    आईजी दत्ता के धानोरा में पहुंचकर जवानों को मार्गदर्शन करने से धानोरा तहसील के  दुर्गम और अतिदुर्गम क्षेत्र में तैनात सीआरपीएफ के अधिकारी व जवानों का मनोबल बढ़ा है. बता दें कि आईजी दत्ता ने धानोरा स्थित सीआरपीएफ के कैंप को भेंट देकर अधिकारी व जवानों के कार्य की प्रशंसा की है.

    बदलती नक्सली रणनीति का मुंहतोड़ जवाब दें

    रणदीप दत्ता ने धानोरा पहुंचकर यहां पर कार्यरत अधिकारी और जवानों को नक्सल गतिविधियों संदर्भ में मार्गदर्शन किया. उन्होंने कहा कि वर्तमान में नक्सली हिंसक वारदात करने के लिये अपनी रणनीति में बदलाव कर रहे हैं. ऐसे में नक्सलियों के बदलती रणनीति का मुंहतोड़ जवाब देने के लिये  नक्सल विरोधी अभियान तीव्र रूप से चलाने का निर्देश दिया

    . साथ ही नक्सलियों का खात्मा करने के साथ ही ग्रामीण और दुर्गम क्षेत्र के नागरिकों का जीवनस्तर सुधारने में सीआरपीएफ प्राथमिकता दे, ऐसी बात भी उन्होंने कही. इस समय  बटालियन के कमांडट जी. डी. पंढरीनाथ ने क्षेत्र में चलाए जा रहे अभियान, सिविक एक्शन प्रोग्राम समेत बटालियन द्वारा चलाए जानेवाले विभिन्न उपक्रमों की जानकारी दी.

    कोरोना से खुद को सुरक्षित रखें जवान

    आईजी दत्ता ने वर्तमान में महामारी के रूप में फैल रहे कोरोना संक्रमण से खुद को सुरक्षित रखने की अपील की. साथ ही कोरोना का 100 फीसटी टीकाकरण करने के लिये जवानों को प्रोत्साहित किया. इस समय सीआरपीएफ के डीआईजी मानस रंजन, कमांडट टी. के.  हाती, द्वितीय कमान अधिकारी सुमित कुमार, द्वितीय कमान अधिकारी  राजपाल सिंह, कुलदीप सिंह, डीसी सपन सुमन, प्रवीण त्रिपाठी, ऐ. के. अनस, प्रमोद सिरसाठ, राजशेखर, तोन सिंह समेत धानोरा के उपविभागीय पुलिस अधिकारी जाधव व थानेदार विवेक अहिरे उपस्थित थे.