Paddy

गोरेगांव. तहसील में स्थित सहकारी धान खरीदी केंद्र की गोदाम में अब तक कि गई धान की खरीदी से गोदाम भर चुके हैं. इसके बाद भी अभी तहसील के किसानों की धान बिक्री होना बाकी है. उन्हें अभी धान बेचने की और रुपयों की जरूरत है, किंतु सहकारी धान खरीदी केंद्र संचालक के पास पर्याप्त गोदाम नहीं होने के कारण धान की खरीदी पर रोक लगी हुई है.

वैसे ही धान खरीदी करने ऑनलाइन सातबारा करने कहा गया है, किंतु इसमें अधिक समय लगने से खरीदी रुक रुक कर चल रही थी, कई किसानों ने ऑनलाइन धान खरीदी के लिए अपने दस्तावेज संचालकों के पास देकर रखे हुए है. इसमें सात से आठ दिन होने के बाद भी उन किसानों का नंबर नहीं लगने से किसान परेशान हैं और केंद्र संचालकों के पास गोदाम नहीं होने के कारण अभी खरीदी रोकी गई. इस वजह से किसान परेशान हो चुका है.

जिला आपूर्ति अधिकारी की अनदेखी

खरीदी केंद्र के पास पर्याप्त मात्रा में धान रखने गोदाम नहीं है. जिसके कारण धान खरीदी रोकी गई है. इस ओर जिला आपूर्ति अधिकारी आंखें मूंदे बैठे हैं. किसानों का धान घर में पड़ा है, किंतु वह बेच नहीं पा रहे हैं. धान बेच कर किसानों को अपनी पुरानी किसानी के लिए ने उधारी देना है, इसलिए किसान अब धान खरीदी केंद्र पर भीड़ कर रहे हैं.

सुविधा नहीं होने के कारण धान खरीदी केंद्र संचालक धान की खरीदी नहीं कर सके हैं. शासन ने धान खरीदी केंद्र मे पर्याप्त मात्रा में गोदाम होने वाले संचालक को ही धान खरीदी केंद्र देने की मांग किसान कर रहे हैं. धान खरीदी केंद्रों पर बाहर से आनेवाला धान भी खरीदा जा रहा है. इस पर रोक लगाने की भी मांग किसान कर रहे हैं.