Gandhinagar Municipal Corporation elections postponed due to corona virus
Representational Pic

    नई दिल्ली. पश्चिम बंगाल और असम में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होते ही सभी राजनीतिक पार्टियों ने जमकर प्रचार करना शुरू कर दिया। सभी पार्टियां एक दूसरे पर वार-पलटवार कर रही है और अपने वोटरों को लुभाने का प्रयास कर रहीं हैं। इस बीच शनिवार को बंगाल और असम में पहले चरण के वोट डाले जाएंगे। बंगाल में आठ चरणों में और असम में तीन चरणों में मतदान होने है। दोनों राज्यों में पहले चरण में पंजीकृत मतदाताओं की संख्या 1.54 करोड़ से अधिक है।

    बंगाल में 30 सीटों पर चुनाव

    शनिवार को पहले चरण में होने वाले चुनाव के दौरान पश्चिम बंगाल की 30 विधानसभा सीटों पर वोट डाले जाएंगे। जिनमें से अधिकतर सीटें एक समय नक्सल प्रभावित रहे जंगलमहल इलाके में आती हैं। भाजपा जंगलमहल क्षेत्र से बड़ी जीत की उम्मीद कर रही है। बता दें कि साल 2019 में हुए आम चुनाव में इस क्षेत्र की अधिकतर सीटों पर भाजपा को जीत मिली थी।

    वहीं शनिवार को पहले चरण में पुरुलिया की नौ, बांकुड़ा की चार, झाड़ग्राम की चार, पश्चिमी मेदिनीपुर की छह सीटों के अलावा पूर्वी मेदिनीपुर की सात सीटों पर मतदान होगा, जिसे भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी का गढ़ माना जाता है।

    जंगलमहल क्षेत्र में कड़ी सुरक्षा का प्रबंध किया गया है। चुनाव आयोग ने यहां केन्द्रीय बलों की लगभग 684 कंपनियों को तैनात किया है, जो 10,288 मतदान केन्द्रों की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभालेगी।

    वहीं झाड़ग्राम में प्रत्येक मतदान केन्द्र पर 11 अर्धसैनिक कर्मियों को तैनात किया गया है। अन्य जिलों में प्रत्येक मतदान केन्द्र पर औसतन छह सुरक्षाकर्मी तैनात किया जाएंगे। चुनाव आयोग के एक अधिकारी ने बताया, “झाड़ग्राम के सभी 1,307 मतदान केन्द्रों को वाम चरमपंथ प्रभावित घोषित किया गया है। हमने मतदान केन्द्रों की निगरानी के लिये ही केन्द्रीय बलों की 127 कंपनियां तैनात करने का निर्णय लिया है।” बता दें कि राज्य में अब तक हुए किसी भी चुनाव में एक मतदान केन्द्र पर पहली बार इतने सुरक्षा कर्मियों की तैनाती की जा रही है।

    पश्चिम बंगाल में मतदान सुबह 7 बजे से शुरू होकर शाम 6:30 बजे तक चलेगा। पश्चिम बंगाल में पहले चरण में चुनाव लड़ रहे 191 में से 19 उम्मीदवार करोड़पति हैं। वहीं 2 उम्मीदवार ऐसे भी हैं जिनकी कुल संपत्ति 500 रुपये बताई गई है।

    असम में 47 सीटों पर चुनाव

    वहीं असम में पहले चरण में होने वाले चुनाव के दौरान पश्चिम बंगाल की 47 विधानसभा सीटों पर वोट डाले जाएंगे। इस चरण में अधिकतर सीटों पर सत्तारूढ़ भाजपा-एजीपी गठबंधन, कांग्रेस नीत विपक्षी महागठबंधन और नवगठित असम जातीय परिषद (एजेपी) के बीच त्रिकोणीय मुकाबला होने के आसार हैं। 47 सीटों के लिए कुल 295 उम्मीदवार चुनावी मैदान में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। यहां सुबह 7 से शाम 6 बजे तक मतदान होगा।कोविड-19 नियमों का पालन सुनिश्चित करने के लिए मतदान का समय एक घंटा बढ़ाया गया है।