आने वाले वर्ष में कितने होंगे ग्रहण? जानें भारत में कैसा रहेगा प्रभाव

नया साल ग्रहणों (Eclipses) के लिए खास होने वाला है। वर्ष 2021 में कुल चार ग्रहण है, इनमे दो चंद्र ग्रहण (Moon Eclipse) और दो सूर्य ग्रहण (Sun Eclipse) होंगे। हालाँकि, इनमें से कोई भी ग्रहण भारत (India) में नहीं दिखाई देगा। ये सभी ग्रहण मुख्य रूप से पूर्वी एशिया (East Asia), ऑस्ट्रेलिया (Australia), प्रशांत महासागर (Pacific Ocean) और अमेरिका (America) में दिखाई देंगे। (Eclipses 2021)

पहला ग्रहण 26 मई को (First Eclipse 26 may 2021)

वर्ष 2021 का पहला चंद्रग्रहण 26 मई को होगा। यह ग्रहण दोपहर लगभग 2.17 बजे से शाम 7.19 बजे तक रहेगा। यह एक पूर्ण चंद्रग्रहण होगा, जो पूर्वी एशिया, ऑस्ट्रेलिया, प्रशांत महासागर और संयुक्त राज्य अमेरिका में पूर्ण चंद्रग्रहण की तरह दिखाई देगा। भारत में यह एक उपछाया ग्रहण की तरह दिखाई देगा। 

दूसरा ग्रहण 10 जून को (Second Eclipse 10 June 2021)

इसके बाद दूसरा सूर्य ग्रहण 10 जून को होगा। यह उत्तरी अमेरिका का उत्तरी भाग, यूरोप और एशिया में आंशिक रूप से, उत्तरी कनाडा, ग्रीनलैंड और रूस में पूर्ण ग्रहण दिखाई देगा। 

तीसरा ग्रहण 19 नवंबर को (Third Eclipse 19 November 2021)

वर्ष 2021 का तीसरा चंद्र ग्रहण 19 नवंबर को होगा। यह ग्रहण लगभग सुबह 11.30 बजे से शाम 5.33 बजे तक चलेगा। यह एक आंशिक चंद्र ग्रहण होगा जिसकी दृश्यता भारत, अमेरिका, उत्तरी यूरोप, पूर्वी एशिया, ऑस्ट्रेलिया और प्रशांत महासागर क्षेत्र में होगी। 

चौथा ग्रहण 4 दिसंबर को (Fourth Eclipse 4 December 2021)

वर्ष 2021 का चौथा और आखरी सूर्य ग्रहण 4 दिसंबर को होगा। 

भारत में नहीं दिखाई देगा कोई भी ग्रहण 

इन चार ग्रहणों में से कोई भी ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा। इसलिए, कोई भी वैदिक नियमों का पालन करने की कोई आवश्यकता नहीं होगी। यह ग्रहण अंटार्कटिका, दक्षिण अफ्रीका, अटलांटिक के दक्षिणी भाग, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अमेरिका को प्रभावित करेगा।