jitendra-singh

    नयी दिल्ली. कांग्रेस (Congress) महासचिव जितेंद्र सिंह (Jitendra Singh) ने असम विधानसभा चुनाव (Assam Vidhansabha Election) में उनकी पार्टी की अगुवाई वाले ‘महाजोत’ (महागठबंधन) की हार के बाद मंगलवार को कहा कि वह प्रभारी होने की वजह से इस पराजय की पूरी जिम्मेदारी लेते हैं।  उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस प्रदेश में एक सशक्त विपक्ष की भूमिका निभाएगी क्योंकि जनता ने इसी का जनादेश दिया है।

    सिंह ने ट्वीट किया, ‘‘असम में कांग्रेस नीत महाजोत की हार की, महासचिव प्रभारी के तौर मैं पूरी जिम्मेदारी लेता हूं। लोकतंत्र में जनता सर्वोच्च होती है और मैं उसके विवेक के सामने अपना सिर झुकाता हूं।” उन्होंने ‘महाजोत’ के सभी निर्वाचित विधायकों और भाजपा की अगुवाई वाले राजग की जीत के लिए मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल को बधाई दी।

    सिंह ने कहा, ‘‘कांग्रेस पार्टी एक रचनात्मक विपक्ष की भूमिका निभाएगी और राज्य में कोरोना महामारी से निपटने के लिए कोई भी जिम्मेदारी उठाने के लिए तैयार है।” उल्लेखनीय है कि असम की 126 सदस्यों वाली विधानसभा में कांग्रेस के नेतृत्व वाले महागठबंधन को 50 सीटें मिली हैं जबकि भाजपा के नेतृत्व वाले सत्तारूढ़ मोर्चे ने 75 सीटों पर अपना कब्जा जमाया है। निर्दलीय के तौर पर चुनाव लड़ने वाले रायजौर दल को केवल एक सीट से ही संतोष करना पड़ा।