Chidambaram raised questions on the government regarding the plight of migrants

नई दिल्ली. INX मीडिया मामले मेंजेल में बंद कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती देते हुए जमानत के लिए सुप्रीम कोर्टका दरवाजा खटखटाया है। ज़मानत की अर्जी पर

नई दिल्ली. INX मीडिया मामले में जेल में बंद कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती देते हुए जमानत के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। ज़मानत की अर्जी पर चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने जल्द सुनवाई की मांग की। जिस पर सुप्रीम कोर्ट मंगलवार या बुधवार को चिदंबरम की जमानत याचिका पर सुनवाई करेंगा।

बतादें कि शुक्रवार 15 नवंबर, 2019 को दिल्ली उच्च न्यायालय ने ईडी की ओर से दर्ज आईएनएक्स मीडिया मामले में चिदंबरम को जमानत देने से इनकार कर दिया था। अदालत ने कहा था कि उनके खिलाफ लगे आरोप पहली नजर में गंभीर प्रकृति के हैं और अपराध में उनकी सक्रिय एवं प्रमुख भूमिका रही है।

चिदंबरम को सबसे पहले सीबीआई ने 21 अगस्त, 2019 को आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले में गिरफ्तार किया था और इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने 22 अक्टूबर, 2019 को उन्हें जमानत दे दी थी। सीबीआई ने 15 मई, 2017 को मामला दर्ज किया था जिसमें आईएनएक्स मीडिया समूह को 2007 में 305 करोड़ रुपये का विदेशी चंदा प्राप्त करने के लिए विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) की मंजूरी देने में अनियमितताओं का आरोप लगाया गया था। इस दौरान चिदंबरम वित्त मंत्री थे। इसके बाद ईडी ने भी इसी संबंध में 2017 में धनशोधन का एक मामला दर्ज किया था।