corona
File

    मुंबई: देश में चली कोरोना (Corona Virus) की दूसरी लहर की चपेट में कई राज्य बेहद ही बुरी तरह आ चुके हैं। इन राज्यों में इस समय सबसे ज़्यादा प्रभावित महाराष्ट्र (Maharashtra) है। महाराष्ट्र में हर रोज़ रिकॉर्ड कोरोना मामले सामने आ रहे हैं। सोमवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटों में महाराष्ट्र में 351 लोगों की कोरोना की चपेट में आने से मौत हुई है जबकि 58,924 नए कोविड मामले सामने आए हैं। इस खतरनाक वायरस से संक्रमित हुए 52,412 लोग पिछले 24 घंटों में ठीक हुए हैं।

    वहीं महाराष्ट्र के दूसरे शहरों के मुकाबले मुंबई इस समय बुरी तरह से कोरोना से प्रभावित है। शहर में सख्त पाबंदियां लगा दी गई है लेकिन बावजूद इसके मुंबई में लगातार हज़ारों कोरोना केस सामने आ रहे हैं। सोमवार को बीएमसी (BMC) द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, मुंबई में पिछले 24 घंटों में 57 लोगों की कोरोना की चपेट में आने से मौत (Corona Deaths) हुई है। आंकड़ों के मुताबिक, शहर में पिछले 24 घंटों में 7,381 नए कोरोना मामले सामने आए हैं। हालांकि आंकड़ों के अनुसार, कोरोना की चपेट में 8,583 मरीज़ ठीक भी हुए हैं।बता दें कि, मुंबई में फिलहाल कोरोना कर्फ्यू लागू है। शहर में 1 मई तक कड़ी पाबंदियां लगा दी गई हैं।

    ऐसे में महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (Rajesh Tope) ने हाल ही में कहा है कि, कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य में लागू पाबंदियां एक मई से भी आगे बढ़ाई जा सकती हैं।   

    दरअसल स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि, हम फिलहाल स्थिति का जायजा ले रहे हैं। कोरोना प्रसार पर अंकुश लगाने के लिए लागू CRPC की धारा 144 के उल्लंघन के कुछ मामले भी अभी सामने आए हैं। क्या हम इन पाबंदियों को एक मई से आगे बढ़ा सकते हैं, यह समय और स्थिति पर ही निर्भर करेगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि आने वाले 15 दिनों के के परिणामों की समीक्षा करने के बाद ही कोई ठोस निर्णय लिया जाएगा।