‘विराट’ को बचाने प्रियंका का राजनाथ सिंह को पत्र

मुंबई. महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ शिवसेना (Shivsena) ने सोमवार को केंद्र सरकार (Center Government) से अनुरोध किया कि गुजरात (Gujrat) के अलंग (Alang) में तोड़े जा रहे सेना से अलग हुए विमानवाहक पोत विराट (Aircraft carrier virat) को संग्रहालय (The museum) बनाने के लिए स्थानांतरित करने के लिहाज से अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) (no objection certificate) दिया जाए। शिवसेना सांसद और प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी (Priyanka Chaturvedi) ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) को लिखे पत्र में कहा, ‘‘अगर हम अपनी भावी पीढ़ी (Future Generation) को ज्ञान का लाभ दिये बिना इतिहास (History) को ऐसे ही जाने देंगे तो यह बहुत निराशाजनक होगा।”

उन्होंने कहा, ‘‘विराट का रख-रखाव बहुत जरूरी है और इस पर मजबूती से विचार की जरूरत है। अगर भारत सरकार चाहे तो यह बच सकता है। मुझे विश्वास है कि महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) ऐतिहासिक जहाज (Historical ship) का संरक्षण करने में सहयोग के लिए तैयार होगी।”

भारतीय नौसेना (Indian Navy) ने तीन साल पहले दुनिया में सबसे लंबे समय तक सेना की सेवा में रहने वाले युद्धपोत ‘विराट’ को सेवा से अलग कर दिया था। यह इस साल सितंबर में टूटने के लिए गुजरात के अलंग तट पर पहुंचा था। (एजेंसी)