लंबी उम्र के लिए डेली 10 हजार नहीं 5 हजार कदम चलना है जरूरी, मौत का रिस्क भी 40% होगा कम

    नई दिल्ली.  फिटनेस एक्सपर्ट की माने तो व्यक्ति को सेहतमंद रहने के लिए एक दिन में लगभग 10 हजार कदम (Walk 10000 Steps) चलना चाहिए। लोगों को ऐसा करते अक्सर देखा भी जाता हैं। इसके पीछे वे साइंस का कोई लॉजिक मानते हैं, जबकि ऐसा बिलकुल नहीं है। हार्वर्ड टीएच चैन स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ (Harvard T.H. Chan School of Public Health) में महामारी विज्ञान की प्रोफेसर और स्टेप काउंट एंड हेल्थ की एक्सपर्ट डॉ. आईमिन ली और उनके सहयोगियों ने 2019 में एक स्टडी की। जिसमें पाया गया कि, जो महिलाएं   एक दिन में 4,400 कदम चलीं उनमें आकस्मित मौत का खतरा 40% तक कम हो गया।  

    रोजाना 7500 कदम चलना है बेहद फायदेमंद
    वे महिलाएं जो, एक दिन में 5,000 कदम से अधिक चली उनमें भी समय से पहले मौत का खतरा कम पाया गया है, लेकिन यह फायदा डेली 7500 कदम चलने तक ही सीमित था। यानी रिपोर्ट के अनुसार कहा जा सकता है कि, हर दिन 10 हजार कदम से कम चलने पर फायदे अधिक हैं।

    लंबी उम्र के लिए नहीं है 10 हजार कदम चलने की जरूरत
    पिछले साल 5,000 मिडिल एज के पुरुषों और महिलाओं पर किए गए एक रिसर्ज में पाया गया कि, लंबी उम्र के लिए हर रोज 10 हजार कदम चलने की  आवशकता नहीं है। स्टडी में देखा गया कि, एक दिन में लगभग 8,000 कदम चलते वाले व्यक्ति में दिल की बीमारी या किसी अन्य कारण से समय से पहले मरने की संभावना उन लोगों की तुलना में आधी थी, जो एक दिन में 4,000 कदम चलते थे। वहीं डेली 10 हजार कदम चलने के कोई नुकसान नहीं थे, लेकिन कोई खास फायदा भी नहीं था।

     

    2005 में बेल्जियम के गेन्ट में एक स्टडी के लिए लोकल सिटीजन को पैडोमीटर दिए गए और उनसे हर दिन कम से कम 10,000 कदम चलने के लिए कहा गया। इस स्टडी में करीब 660 महिला और पुरुष शामिल हुए थे और इनमें से केवल 8 प्रतिशत लोगों ने ही 10 हजार कदम का टारगेट पूरा किया, लेकिन चार साल तक चली इस स्टडी में कोई भी ज्यादा दिन तक 10 हजार कदम का टारगेट पूरा नहीं कर पाया।

    स्टेप्स की बजाय टाइम रिकमेंड ज्यादा प्रभावी
    डॉक्टर ली रिपोर्ट के मुताबिक, जो व्यक्ति रोजाना जितने कदम चलता है उसमें कुछ कदम बढ़ा ले तो नहीं काफी है। अमेरिका और अन्य सरकारों द्वारा जारी फिजिकल एक्टिविटी गाइडलाइंस स्टेप्स की बजाय टाइम रिकमेंड करती हैं।

    हफ्ते 150 मिनट की एक्सरसाइज जरूरी
    स्टडी के अनुसार एक व्यक्ति को अपनी दिनभर की एक्टिविटी के साथ ही 150 मिनट की एक्सरसाइज जरूर करना चाहिए। साथ ही हर रोज 30 मिनट की एक्सरसाइज महत्वपूर्ण है।  

    रोजाना 7 से 8 हजार कदम चलना काफी है
    डॉ. ली के मुताबिक अगर एक्सरसाइज को स्टेप्स में बदल दिया जाए तो डेली के हिसाब से 16000 स्टेप्स होंगें। एक व्यक्ति में रोजमर्रा की गतिविधियों के दौरान एक दिन में लगभग 5,000 कदम चलता है। यदि इसमें 2 से 3 हजार कदम और बढ़ा दिए जाएं तो 7 से 8 हजार कदम एक दिन में काफी होते हैं।

    कंपनी की मार्केटिंग स्ट्रैटजी थी 10 हजार कदम
    डॉ. ली के अनुसार 1960 के दशक में जापान में 10 हजार स्टेप्स का टारगेट बेहद लोकप्रिय था। 1964 के टोक्यो ओलिंपिक के बाद एक घड़ी बनाने वाली कंपनी ने पेडोमीटर की मार्केटिंग के लिए फिटनेस पर लोगों का ध्यान केंद्रिंत करने की स्ट्रैटजी बनाई थी। इस पर जापानी भाषा में लिखा हुआ था 10,000 स्टेप्स मीटर। तभी से फिटनेस ट्रैकिंग डिवाइस के लिए 10 हजार स्टेप्स मानक बन गए।