Waiting for central employees ends, Center increased dearness allowance by 28 percent

    नई दिल्ली: मोदी सरकार (Modi Government) ने केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ा बड़ा तौफा दिया है। बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में सरकार ने पिछले देश साल से महंगाई भत्ते और महंगाई राहत पर लगी रोक को हटा दिया है। इसी के साथ महंगाई भत्ते को बढ़कर 17 से 28 प्रतिशत कर दिया है। सरकार के इस निर्णय से एक करोड़ 13 लाख लोगों को फायदा मिलेगा। केंद्रीय कैबिनेट में लिए निर्णय की जानकारी देने के लिए आयोजित प्रेस वार्ता में केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर इसकी घोषणा की। 

    केंद्रीय मंत्री ने कहा, “केंद्र के कर्मचारियों को डियरनेस अलाउंस (DA) और पेंशनर को डियरनेस रिलीफ की बहाली करने पर निर्णय लिया गया है। अब DA की दर को 17% से बढ़ाकर 28% की जाएगी। इसे 1 जुलाई 2021 से लागू किया जाएगा।”

    डेढ़ साल से लगी थी रोक 

    देश में कोरोना संकट के कारण सर्कार ने पिछले वर्ष डियरनेस अलाउंस और डियरनेस रिलीफ पर रोक लगा दी थी. सरकार के इस निर्णय के कारण करीब 48 लाख कर्मचारी और 65 लाख पेंशन धारकों पर सीधा प्रभाव पड़ा था. वहीं अब लगी इस रोक को हटाते के निर्णय से बड़ी राहत मिलेगी.

    11 प्रतिशत की सीधे बढ़ोत्तरी 

    सरकार ने महंगाई भत्ते को 17 से बढ़ाकर सीधे 28 कर दिया है। यानी सीधे 11 प्रतिशत की वृद्धि। सरकार के आदेश के अनुसार जनवरी 2020 में केंद्रीय कर्मचारियों का डीए चार फीसदी बढ़ा था। इसके बाद दूसरी छमाही (जून 2020) में इसमें तीन फीसदी का इजाफा हुआ। जनवरी 2021 में यह चार फीसदी और बढ़ा था। इस तरह डीए 17 फीसदी से बढ़कर 28 फीसदी होने से कर्मचारियों को लाभ होगा।