thane
File Pic

    नयी दिल्ली. देश (India) में कोरोना संक्रमण (Corona Pandemic)  की लहर एक बार फिर हावी हो रही है। जहाँ बीते दो दिनों से कोरोना के दैनिक मामले अब 60,000 के भी पार आ रहे हैं। वहीँ अब इस महामारी को रोकने के लिए राज्य सरकारों द्वारा कई बड़े और सख्त कदम उठाए जा रहे हैं लेकिन अब कोरोना पर काबू पाना एक तरीके से मुश्किल प्रतीत हो रहा है।अगर हम बीते 24 गंतों के आंकड़े देखें तो देश में फिलहाल कोरोना के 62,714 नए मामले सामने आए हैं। वहीं 300 से ज्यादा लोगों ने इस खतरनाक संक्रमण से अपने प्राण गँवा चुके हैं। 

    अगर हम स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों की बात करें तो बीते 24 घंटे में 62,714 मामले सामने आए हैं, जबकि शनिवार को यह आंकड़ा 62,258 तक था। इससे साफ़ पता चल रहा है कि अब रोजाना 60,000 से ज्यादा कोरोना के मामले दर्ज किए जा रहे हैं, जिसके बाद अब कोरोना संक्रमण का कुल आंकड़ा बढ़कर 1,19,71,624 हो चूका है। वहीं इस खतरनाक संक्रमण के सामने 312 लोगों ने हार भी मान ली है और कोरोना से मरने वाले मरीजों का आंकड़ा बढ़कर फिलहाल 1,61,552 हो गया है। वहीं बीते 24 घंटे में 28,739 मरीज ही कोरोना से निजात पा चुके हैं, जबकि संक्रमित मरीजों का आंकड़ा साठ हजार के भी ऊपर चला गया है। इसके साथ ही  

    स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में मौजूदा समय में 1,13,23762 लोग कोरोना महामारी की  चपेट से बाहर आ गए हैं। लेकिन संक्रमण में तेजी के चलते संक्रमित मामलों में तेजी की वजह से सक्रिय मामले भी अब लगातार बढ़ रहे हैं। इस प्रकार देश में फिलहाल सक्रिय मामलों का आंकड़ा बढ़कर 4,86,310 हो चूका है। गौरतलब है कि 15 फरवरी के बाद से कोरोना संक्रमण के सक्रिय मामलों में फिर भारी बढ़ोतरी दर्ज हुई है।

    वैश्विक महामारी के मामले 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर को एक करोड़ का आंकड़ा पार कर गए थे। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के मुताबिक 27 मार्च तक 24,09,50,842 नमूनों की जांच की जा चुकी है। शनिवार को 11,81,289 नमूनों की जांच की गई।