बच्चों की नाजुक स्किन का केयर इन चीज़ों से करें, घरेलू नुस्खों से बेहतर कुछ नहीं

    -सीमा कुमारी

    छोटे बच्चों की स्किन बहुत ही नाजुक और कोमल होती है। गर्मियों की कड़कती धूप के कारण उनके शरीर पर रैशेज होने लगते हैं। ऐसे में शिशुओं की त्वचा का खास देखभाल करने की जरूरत होती हैं। बच्चों को तो घर में रखने से भी उनकी स्किन गर्मी के कारण प्रभावित होती हैं। ऐसे में इस भीषण गर्मी में शिशुओं की स्किन की प्रॉपर देखभाल बेहद जरूरी हो जाती है। ऐसे में कुछ टिप्स को फॉलो करके आप अपने बच्चे की नाजुक स्किन को इस गर्मी में स्वस्थ रख सकते हैं।

    हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, दही त्वचा और पेट के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। इसमें पाए जाने वाले प्रोबायोटिक गुण बच्चे की त्वचा के साथ-साथ स्वास्थ्य के लिए भी लाभदायक होते हैं। यदि आपने बच्चे को ठोस आहार देना शुरु कर दिया है तो आप दही को उसकी डाइट में शामिल कर सकते हैं। इससे बच्चे की त्वचा बहुत ही अच्छी होती है।

    एक्सपर्ट्स के मुताबिक, सेंधा नमक भी आप बच्चे के रैशेज की समस्या को दूर करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें सूजनरोधी और कीटाणुरोधी गुण पाए जाते हैं। इसके अलावा इसमें मैग्नीशियम भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो बच्चे की स्किन के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। आप बच्चे के नहाने वाले पानी में सेंधा नमक मिलाएं और फिर उस पानी से बच्चे को नहलाएं। इससे बच्चे की त्वचा को काफी आराम मिलेगा।

    एलोवेरा भी बच्चे की स्किन के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। यह स्किन को हाइड्रेट करने के साथ-साथ त्वचा को ठंडक पहुंचाने में भी मदद करता है। इसमें पाए जाने वाले एंटीमाइक्रोबियल गुण बच्चे की त्वचा में रैशेज पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म करने में मदद करते हैं। आप एलोवेरा जेल प्रभावित स्थान पर लगाएं। बच्चे को काफी आराम मिलेगा।

    नारियल तेल शिशु की स्किन के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। इसमें पाया जाने वाला सैचुरेटेड फैट शिशु की त्वचा को मुलायम और मॉइश्चराइज रखने में मदद करता है। नारियल तेल में एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल और एंटीवायरल गुण पाए जाते हैं, जो स्किन के रैशेज दूर करने में मदद करते हैं। यह स्किन की जलन भी दूर करने में मदद करते हैं। आप थोड़ा सा नारियल तेल हाथ में लेकर बच्चे के प्रभावित हिस्से की मसाज करें। बच्चे को काफी आराम मिलेगा।