बरसात में हो सकती है आंखों की समस्या, ऐसे रखें ख्याल

    मानसून बहुत से लोगों को बहुत पसंद होता है, लेकिन इसके साथ ही बहुत सी बीमारियां भी घर आ जाती है। मौसम में बदलाव के कारण लोग ज्यादा बीमार पड़ते हैं। जिससे वायरल और बैक्टीरियल संक्रमण भी लाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इससे आपकी ‘आंखें’ भी प्रभावित होती हैं। 

    मानसून का आनंद लेने के लिए सभी को एक निश्चित स्तर की सावधानी बरतने की जरूरत होती है। जिसमें आंखों से जुड़ी सावधानी भी शामिल है। तो चलिए आपको बताते हैं आंखों की अच्छी देखभाल के लिए कुछ बातें 

    हाइजीनिक बनें 

    हमेशा चेहरे को पोछने के लिए करने के लिए जो आप तौलिया, नैपकिन ,रुमाल आदि का इस्तेमाल अक्र्ते हैं, उन्हें साफ रखें। अपने व्यक्तिगत सामान, जैसे कि तौलिया, चश्मा, कॉन्टैक्ट लेंस आदि किसी के साथ शेयर न करें।

    चश्में का करें यूज़ 

    आप जब भी घर से बाहर निकलें तो आपका नंबर वाला चश्मा या धूप वाला चश्मा ध्यान से पहनें। वे हमारी आंखों को किसी भी बाहरी वायरस और बैक्टीरिया जैसे संक्रामक पदार्थों को दूर रखते हैं।

    आंखों की देखभाल 

    आंखों को रोजाना ठंडे पानी से धोएं। जागने के बाद या कॉन्टैक्ट लेंस हटाने के बाद अपनी आंखों को जोर से न रगड़ें क्योंकि इससे कॉर्निया स्थायी रूप से क्षतिग्रस्त हो सकता है।

    कॉन्टैक्ट लेंस न पहनें

    कोशिश करें कि मानसून के दौरान कॉन्टैक्ट लेंस न पहनें क्योंकि इससे आंखों में अत्यधिक सूखापन हो सकता है। जिसकी वजह से आंखों में लालिमा और जलन हो सकती है। अपने चश्मे को साफ और सूखा रखें।