Remdesivir Injections Theft

    भोपाल. शहर में स्थित सरकारी हमीदिया अस्पताल से कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के लिए कारगर रेमडेसिविर के 860 इंजेक्शन चोरी हो गये हैं। इस संबंध में यहां कोहेफिजा पुलिस थाने में मामला दर्ज कर लिया गया है और जांच जारी है। भोपाल के पुलिस उप महानिरीक्षक इरशाद वली ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘860 (रेमडेसिविर) इंजेक्शन चोरी हो गए हैं। हम जांच कर रहे हैं।” जब उनसे सवाल किया गया कि क्या इसका अब तक कोई सुराग मिला है, तो इस पर उन्होंने कहा कि जांच जारी है।

    वहीं, एक अन्य आला पुलिस अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर कहा कि आशंका है कि अस्पताल प्रबंधन या स्टाफ से कोई व्यक्ति ऐसा हो सकता है जो इन चोरों के साथ मिला हो, क्योंकि इस समय बाजार में रेमडेसिविर इंजेक्शन की मांग अधिक है।

    इससे कुछ ही घंटे पहले अस्पताल में पहुंचे मध्य प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने शनिवार को संवाददाताओं को बताया, ‘‘जानकारी मिली है कि (रेमडेसिविर) इंजेक्शन चोरी हो गए हैं। यह बहुत गंभीर मामला है। संभागीय आयुक्त कवीन्द्र कियावत एवं भोपाल के पुलिस उप महानिरीक्षक इरशाद वली मौके पर पहुंच गये हैं और जांच शुरू कर दी गई है।”

    उन्होंने कहा कि मामले की तह तक पहुंचने के लिए जांच जारी है। रेमडेसिविर इंजेक्शन चोरी का मामला उस वक्त आया है, जब कोविड-19 महामारी के दौरान प्रदेश में इस इंजेक्शन की भारी कमी है। कोहेफिजा पुलिस ने बताया कि इस मामले में भादंवि की धारा 457 एवं 380 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। (एजेंसी)