राजभवन में हिंदुओं को भी पूजा के लिए जगह दें

  • हिन्दू जनजागृति समिति के सुनील घनवट ने की राज्यपाल से मांग

मुंबई. हिन्दू जनजागृति समिति ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से राजभवन में मुसलमानों की तरह हिंदुओं के लिए भी पूजा, आरती और उत्सव मनाने के लिए स्थान उपलब्ध कराने की मांग की है. हिंदु जनजागृति समिति, महाराष्ट्र के संगठक सुनील घनवट ने राज्यपाल को लिखे एक पत्र में कहा है कि राजभवन में जिस तरह से मुसलमानों को मस्जिद में नामाज पढ़ने की इजाजत है, उसी तरह सर्वधर्मसमभाव के तहत हिंदुओं को भी जगह दी जाए, ताकि राजभवन में हिंदू कर्मचारी पूजा-पाठ कर सकें. 

ज्ञात हो कि राजभवन के मुश्लिम कर्मचारियों को नमाज पढ़ने के लिए एक कक्ष दिया गया है. बाहर के मुसलमान भी वहां नमाज पढ़ने के लिए जाते हैं, इसलिए शुक्रवार को वहां भीड़ होती थी. कोरोना काल में राज्य शासन के निर्देशानुसार राजभवन के प्रार्थनास्थल अन्य प्रार्थनास्थलों के समान बंद हो गए थे. 

राजभवन में मंदिर के लिए बड़ी जगह दी जाए

इस पर ‘रजा अकादमी’ नामक मुसलमान संगठन ने एक पत्र के माध्यम से राज्यपाल से मांग की थी कि मुसलमानों को नमाज पढ़ने के लिए राजभवन की यह मस्जिद खोल दी जाए. घनवट ने भारतीय संविधान में धर्मनिरपेक्षता का हवाला देते हुए कहा कि नियमानुसार हिन्दू कर्मचारियों को भी उनकी संख्या के अनुसार राजभवन में मंदिर के लिए बड़ी जगह दी जाए, जिससे राजभवन के हिन्दू कर्मचारी और बाहर के हिन्दू महाआरती, पूजा, उपासना के साथ ही विविध धार्मिक उत्सव मना सकें.